Hyderabad : बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगे अमित शाह, भाग्यलक्ष्मी मंदिर की बढ़ाई गई सुरक्षा

|

Updated: 29 Nov 2020, 11:07 AM IST

  • हैदराबाद ओल्ड सिटी में अमित शाह करेंगे चुनाव प्रचार।
  • ओवैसी के गढ़ में सियासी हुंकार भरेंगे केंद्रीय गृह मंत्री शाह।

नई दिल्ली। पिछले कुछ दिनों से स्थानीय निकाय चुनाव की वजह से ऐतिहासिक शहर हैदराबाद का सियासी पारा चरम पर है। इस बीच चुनाव प्रचार के अंतिम दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की रविवार को हैदराबाद दौरे को देखते हुए सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। खासकर भाग्यलक्ष्मी मंदिर और उसके आसपास के क्षेत्रों में सुरक्षा का सख्त पहरा है। हैदराबाद पहुंचने के बाद शाह सबसे पहले भाग्यलक्ष्मी मंदिर पहुंचेंगे। बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद आज अमित शाह पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगे।

विधानसभा चुनाव का लिटमस टेस्ट

दरअसल, हैदराबाद नगर निगम चुनाव में बीजेपी अपनी पकड़ मजबूत करना चाहती है। यही वजह है कि पिछले दिनों से हैदराबाद राष्ट्रीय राजनीति का केंद्र बना हुआ है। फिर ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव को 2023 के तेलंगाना विधानसभा चुनाव का लिटमस टेस्ट माना जा रहा है। यही कारण है कि बीजेपी ने केसीआर और असदुद्दीन ओवैसी के मजबूत दुर्ग में अपने दिग्गज नेताओं की फौज उतार दी है।

बता दें कि हैदराबाद नगर निगम देश के सबसे बड़े नगर निगमों में से एक है। यह नगर निगम 4 जिलों में फैला है। इनमें हैदराबाद, रंगारेड्डी, मेडचल.मलकजगिरी और संगारेड्डी आते हैं। इस इलाके में 24 विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं। तेलंगाना के 5 लोकससभा सीटें आती हैं। यही वजह है कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में केसीआर से लेकर बीजेपी, कांग्रेस और असदुद्दीन ओवैसी तक ने अपनी ताकत झोंक दी है। 1 दिसंबर को वोट डाले जाएंगे। वोटों की गिनती 4 दिसंबर को होगी।