मातम में बदली खुशियां, 11 दिसंबर को होनी थी शादी लेकिन भगवान को मंजूर था कुछ और...

|

Published: 27 Nov 2020, 07:25 PM IST

- खुशहाली भरे माहौल में छा गया मातम
- गढ़वा थाना क्षेत्र की घटना
- गिट्टी से भरे हाइवा से मिसिरगवां रोड पर हुई घटना

सिंगरौली। घर में खुशहाली भरा माहौल अचानक से उस समय मातम में बदल गया, जब घरवालों को मालूम हुआ कि जिसके लिए बधाईयां बज रही हैं, उसकी हाइवा के चपेट में आने से मौत हो गई। घटना गढ़वा थाना क्षेत्र मिसिरगवां रोड पर हुई। गिट्टी से भरे हाइवा के चालक ने वाहन पर से नियंत्रण खो दिया और बाइक सवार युवक को चपेट में लेते हुए रौंद डाला। युवक की मौके पर ही मौत हो गई। घटना के बाद हाइवा चालक मौके से वाहन लेकर फरार होने में सफल रहा। स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को कब्जे में लेने के बाद पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया। फरार हाइवा चालक के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर पुलिस उसकी तलाश में जुटी है।

घर में मच गई चीख-पुकार

घर में शादी को लेकर खुशी का माहौल था लेकिन जब युवक के मौत की खबर घर पहुंची तो सारी खुशियां मातम में बदल गईं। परिवार के सदस्य दहाड़ मार कर रोने लगे। पड़ोसियों ने जब सुखेंद्र के मौत की खबर मिली तो एक पल के लिए किसी को विश्वासन ही नहीं हुआ, लेकिन थोड़ी देर में पूरे घर में चीख पुकार मच गई। सभी का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। इधर पड़ोस के लोग मृतक के परिजनो को सांत्वना देने में जुटे रहे। लेकिन विभत्स घटना का मंजर देखकर परिजनों के आंसू नहीं थमे। घर में कोहराम मचा रहा।

हर रोज हो रही सड़क दुर्घटनाएं

जिले में हर दूसरे दिन सड़क दुर्घटनाओं में लोगों की मौत हो रही है। इसके बावजूद सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए जिम्मेदार अधिकारी आगे नहीं आ रहे हैं। नतीजा यह है कि जिले की सड़कों पर यमराज बनकर दौड़ रहे ट्रेलर व हाइवा वाहन लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। बता दें कि बीते दिवस देवसर में हुई सड़क दुर्घटना में छात्रा की मौत को लोग भूले नहीं थे कि शुक्रवार को फिर गढ़वा थाना क्षेत्र के मिसिरगवंा रोड पर दर्दनाक हादसा हुआ है। जिसमें बाइक सवार युवक की मौत हो गई।

11 को होनी थी शादी, एक को था तिलकोत्सव

जानकारी के मुताबिक सुखेन्द्र हलवाई की शादी 11 दिसंबर को होनी थी और एक दिसंबर को तिलकोत्सव था। शादी व तिलकोत्सव का आमंत्रण कार्ड वितरण करने भरहरी गांव जा रहा था कि गढ़वा थाना क्षेत्र के मिसिरगवां गांव के मुख्य मार्ग में काल बनकर आए ट्रक चालक ने सुखेन्द्र को काल के गाल में ढकेल दिया। इस घटना को सुनकर मृतक के परिजनों में मातम पसर गया है।