दिलीप वलसे पाटिल बने महाराष्ट्र के नए गृहमंत्री

|

Updated: 05 Apr 2021, 09:44 PM IST

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गृह मंत्री अनिल देशमुख का इस्तीफा राज्यपाल भगत सिंह कोश्याली को भेज दिया है। साथ ही राजभव को सूचित किया है कि दिलीप वलसे पाटिल राज्य के अगले गृह मंत्री के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे।

मुंबई। गृह मंत्री अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद महाराष्ट्र की सियासी पारा चढ़ गया है। वहीं दूसरी ओर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अनिल देशमुख का इस्तीफा राज्यपाल भगत सिंह कोश्याली को भेज दिया है। साथ ही राजभव को सूचित किया है कि दिलीप वलसे पाटिल राज्य के अगले गृह मंत्री के तौर पर अपनी जिम्मेदारी संभालेंगे।

दिलीप पाटिल एनसीपी के नेता हैं। वे महाराष्ट्र सरकार में श्रम और आबकारी मंत्रालय संभाल रहे थे। दिलीप वलसे पाटिल से श्रम विभाग लेकर हसन मुशरिफ को अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है, जबकि स्टेट एक्साइज डिपार्टमेंट का काम अब उपमुख्यमंत्री अजित पवार देखेंगे।

यह भी पढ़ें :- अनिल देशमुख के इस्तीफे के बाद महाराष्ट्र सरकार पर BJP हमलावर, सीएम उद्धव ठाकरे से मांगा इस्तीफा

बता दें कि 100 करोड़ रुपये की उगाही करने के आरोपों में घिरे अनिल देशमुख ने मुख्य मंत्री उद्धव ठाकरे को अपना इस्तीफा सौंप दिया। उन्होंने ट्वीट कर भी इसकी जानकारी दी। इससे पहले उगाही मामले में सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए अनिल देशमुख को बड़ा झटका दिया और मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को दिए अपने इस्तीफे में अनिल देशमुख ने कहा है कि बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश के बाद उनका गृह मंत्री के पद पर बने रहना उचित नहीं है इसलिए वह अपना इस्तीफा सौंप रहे हैं। मालूम हो कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने CBI को मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह द्वारा महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की 15 दिनों के भीतर प्रारंभिक जांच शुरू करने के लिए कहा है।