कांग्रेस ने शिवसेना से दूरी के दिए संकेत, पार्टी अकेली लड़ेगी BMC चुनाव

|

Updated: 19 Nov 2020, 03:14 PM IST

  • फडणवीस का दावा - बीएमसी चुनाव में बीजेपी का लहराएगा झंडा।
  • अगामी चुनाव में कांग्रेस को शिवसेना से गठबंधन की जरूरत नहीं।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में कई मुद्दों पर राजनीतिक दलों के बीच जारी सियासी घमासान के बीच कांग्रेस ने महाविकास अघाड़ी सरकार में हिस्सा होने के बावजूद बीएमसी का चुनाव अकेले लड़ने के संकेत दिए हैं। महाराष्ट्र कांग्रेस नेता रवि राजा ने अपने बयान में कहा बीएमसी चुनाव लड़ने के लिए कांग्रेस को शिवसेना से गठबंधन करने की जरूरत नहीं है। कांग्रेस नेता के इस बयान से साफ है कि कांग्रेस अब शिवसेना से दूरी बनाना चाहती है। यह स्थिति न तो शिवसेना न ही कांग्रेस के लिए सही संकेत हैं।

कोरोना से 40% मौत अकेले मुंबई में क्यों?

दूसरी तरफ बीजेपी प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि आगामी चुनावों में बीएमसी पर बीजेपी का झंडा लहराएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के मुद्दे पर जो लोग अपनी पीठ थपथपा रहे हैं, उनसे यह सवाल किया जाना चाहिए कि पूरे देश में कोरोना से जितने लोग मरे हैं। उनमें से 40 फीसद मौतें अकेले मुंबई में हुई हैं। फडणवीस ने कहा कि बीएमसी चुनाव में सरकार को इस बात का जवाब देना होगा कि कोरोना वायरस से ज्यादा मौतें महाराष्ट्र और मुंबई में ही क्यों हुईं?