BJP संसदीय दल की बैठक में PM Modi ने विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- कांग्रेस ना सदन चलने देती, ना चर्चा होने देती

|

Published: 27 Jul 2021, 01:24 PM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी संसदीय दल की बैठक में कांग्रेस पर साधा निशाना, आजादी के 75वें वर्ष को लेकर पार्टी सांसदों को दिया खास टारगेट

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने मंगलवार को बीजेपी संसदीय दल की बैठक ( BJP Parliamentary Party Meeting ) में कांग्रेस ( Congress ) पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ना तो सदन नहीं चलने दे रही है और ना ही चर्चा में भाग ले रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह भी कहा कि कोरोना पर जब बैठक बुलाई गई तो कांग्रेस ने ना सिर्फ बहिष्कार भी बल्कि अन्य दलों को भी आने से रोका। बैठक में पीएम मोदी ने आजादी के 75वर्ष पूरे होने पर सांसदों को खास निर्देश भी दिए।

यह भी पढ़ेंः कर्नाटक में नए CM का एलान आज संभव, बेंगलूरु में BJP ने बुलाई संसदीय समिति की बैठक

पीएम मोदी ने बीजेपी की संसदीय दल की बैठक (BJP Parliamentary Party meeting) में कांग्रेस पर संसद की कार्यवाही में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाया। पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस संसद की बैठकों का बहिष्कार कर रही है। जब कोविड-19 पर बैठक बुलाई गई तो कांग्रेस ने बहिष्कार भी किया और अन्य दलों को आने से रोका।

पीएम मोदी ने बीजेपी सांसदों से आग्रह किया कि वे कांग्रेस और विपक्ष के इस 'कार्य' को जनता और मीडिया के सामने एक्सपोज करें।

15 अगस्त के बाद बीजेपी सांसदों को दिया टारगेट
पीएम मोदी ने 15 अगस्तक के बाद बीजेपी सांसदों को एक टारगेट भी दिया। पीएम ने कहा कि 16 अगस्त के बाद आप सभी अपने-अपने क्षेत्रों में जाएं और सरकार की 8 योजनाओं की जानकारी दें।

इसके साथ ही देश की आजादी के 75 साल पर जो हो रहा है उसको लेकर और अगले 25 साल के लिए लोगों के बीच जागरूकता फैलाएं।

75 गांव में बिताएं 75 घंटे
पीएम मोदी ने साथ ही कहा कि पार्टी के कार्यकर्ता आजादी के 75वें वर्ष में 75 गांवों तक जाएं। सांसद गांव में 75 घंटे तक रुकें। इस दौरान कार्यकर्ता डिजिटल लिटरेसी पर लोगों को जानकारी देंगे।

यह भी पढ़ेंः पूर्व पीएम जवाहरलाल नेहरू पर राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी का बड़ा बयान, बताया किस वजह से कमजोर

सरकारी कार्यक्रम न बन जाए ‘अमृत महोत्सव’
पीएम मोदी ने कहा कि देश की आजादी के 75वर्ष पूरे होने मनाया जा रहा अमृत महोत्सव सिर्फ सरकारी कार्यक्रम बन कर ना रह जाए। इसे जन आंदोलन बनाना होगा।

केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी और वी मुरलीधरन ने पिछले सप्ताह लोकसभा और राज्यसभा में क्या हुआ, इस पर बीजेपी संसदीय दल की बैठक में जानकारी दी।