Bihar: पिता लालू के पदचिह्नों पर Tejashwi Yadav, चुनाव में संभाली RJD की कमान

|

Updated: 23 Oct 2020, 07:50 PM IST

  • बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर इस समय देश की सियासत गरम है
  • BJP और कांग्रेस समेत सभी राजनीतिक दलों ने चुनाव में अपनी ताकत झोंक दी

नई दिल्ली। बिहार में विधानसभा चुनाव ( Bihar Assembly Election ) को लेकर इस समय देश की सियासत गरम है। भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) और कांग्रेस ( Congress ) समेत सभी राजनीतिक दलों ने चुनाव में अपनी ताकत झोंक दी है। वहीं, राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल नेता तेजस्वी यादव ( Rashtriya Janata Dal leader Tejashwi Yadav ) ने अपने पिता लालू प्रसाद यादव के नक्शेकदम पर चलते हुए चुनाव की कमान संभाल ली है। राष्ट्रीय जनता दल ( RJD ) नेता ने शुक्रवार को नवादा जिले के हिसुआ में राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) के साथ मंच साझा किया। राहुल गांधी की महागठबंधन के लिए यह पहली चुनावी रैली थी। आपको बता दें कि आपको बता दें कि लालू प्रसाद ( lalu Yadav ) राज्य विधानसभा चुनाव से 40 वर्षो में पहली बार दूर हैं।

Weather Update: Bengal के कई इलाकों में Heavy Rain की चेतावनी, 24 घंटे में ऐसा रहेगा मौसम का हाल

आपको बता दें कि तेजस्वी यादव फिलहाल रैलियों में भीड़ जुटाकर सबका ध्यान आकर्षित कर रहे हैं। वह रोजाना कई रैलियों में भाग ले रहे हैं। तेजस्वी यादव न केवल बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं, बल्कि पार्टी के पोस्टरों और कैंपेन में आरजेडी का चेहरा हैं। वहीं, तेजस्वी यादव भी पूरे चुनावी रंग में नजर आ रहे हैं। यही वजह है कि तेजस्वी अपनी रैलियों में नीतीश कुमार पर खूब निशाना साध रहे हैं। गौरतलब है कि नीतीश ने पिछला चुनाव जेल में बंद उनके पिता के साथ मिलकर लड़ा था।

Indian Navy के बेड़े में शामिल स्वदेशी INS कवरत्ती, दुश्मन को ऐसे देती है जवाब

लालू प्रसाद यादव के करीबी और आरजेडी के एक नेता की मानें तो नीतीश कुमार की जेडीयू ने 13 वर्षो से ज्यादा समय से सत्ता में हैं, संतुलन अब राजद की अगुवाई वाले गठबंधन की ओर झुक रहा है। राजद ने हालांकि 30 स्टार कैंपेनर का नाम आगे किया था, लेकिन तेजस्वी ही केवल इस तीन चरण के चुनाव में पार्टी के चेहरे के रूप में दिख रहे हैं। पार्टी के कैंपेन मैनेजर ने कहा कि तेजस्वी 200 से ज्यादा रैलियां करेंगे और वह हाईडिमांड में हैं। हालांकि पार्टी नेता लालू प्रसाद के मजाकिया अंदाज को मिस कर रहे हैं, लेकिन उनका मानना है कि तेजस्वी भी एनडीए को कड़ी टक्कड़ दे रहे हैं।

अच्छी खबर: भारत ने वीजा, यात्रा प्रतिबंधों में क्रमिक छूट की अनुमति दी

विशेषज्ञों का मानना है कि कोरोनावायरस लॉकडाउन के दौरान प्रवासी संकट और 10 लाख लोगों को नौकरी देने के वादे से राजद की चुनावी रैलियों में भीड़ जुट रही है।

Related Stories