Bihar Election Result: महिलाओं का बढ़ा मतदान तो इन दलों को मिला फायदा, ऐसा था पिछला परिणाम

|

Published: 10 Nov 2020, 08:04 AM IST

  • Bihar Election Result महिलाओं के ज्यादा मतदान से JDU-BJP को मिला फायदा
  • उत्तर बिहार, कोशी और सीमांचल के इलाकों में आधी आबादी का रहा है दबदबा
  • एनडीए को इन्हीं इलाकों से इस बार भी उम्मीद

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव 2020 ( Bihar Assembly Election ) के परिणाम अब से कुछ घंटों में स्पष्ट होने लगेंगे। इसके साथ ही ये भी साफ हो जाएगा कि आखिर बिहार की जनता ने किसे सत्ता की चाबी सौंपी है और किसे इस बार शासन करने का मौका नहीं दिया है। राजनीतिक दलों को सत्ता का स्वाद चखाने वाले वोटर्स की पसंद पर ही निर्भर करता है कि वे किसे आशीर्वाद देते हैं और किसे नकारते हैं।

ऐसे ही वोटर्स में आधी आबादी की भी बराबरी की हिस्सेदारी रही है। यानी महिला मतदाताओं ने जिसे बढ़चढ़कर वोट दिया उन्हें फायदा मिला। इसी तरह मुस्लिम वोटर्स का अच्छा खासा वोट बैंक रहा है। यही वजह है कि सभी दलों ने इन्हें साधने के लिए हर मुमकिन कोशिश भी की।

बिहार चुनाव नतीजों से पहले कांग्रेस को सता रहा ये डर, सोनिया गांधी ने दो दिग्गजों को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

मत प्रतिशत में आगे महिलाएं
महिला मतदाताओं की बात करें तो मत प्रतिशत में पुरुषों से आगे रहीं हैं। पहले चरण को छोड़ दूसरे और तीसरे चरण महिला वोटरों का मतदान प्रतिशत पुरुषों के मुकाबले ज्यादा रहा है। वहीं इस बार भी पहले चरण को छोड़ दें तो महिला मतदाता बाकी दोनों चरणों में मतदान करने में पुरुषों से आगे रही हैं।

पिछले नतीजों में महिलाओं ने इन्हें चुना विधानसभा क्षेत्र वोट प्रतिशत ( महिला) पार्टी किशनगंज का ठाकुरगंज 77.15 JDU कटिहार के प्राणपुर 75.70 BJP कटिहार के बलरामपुर 74. 64 CPI पूर्णिया के बैसी 74.59 RJD सुपौल के छातापुर 73.86 BJP पूर्णिया के कस्बा 73.52 Congress किशनगंज के कोचाधामन 73.34 JDU अररिया के सिकटी 72.62 BJP पश्चिम चंपारण के सिकटा 72.8 JDU कटिहार के कदवा 72.21 Congress

पिछले चुनाव में भी आगे
2015 में हुए चुनाव की बात करें तो पहली बार महिला मतदाता पुरुषों से आगे निकली थीं। पिछले चुनाव में 10 ऐसी सीटें थी जहां 72 प्रतिशत से ज्यादा महिलाओं ने मतदान किया था, जिनमें सबसे ज्यादा 3-3 सीटें बीजेपी और जेडीयू के खाते में आई थी। 10 में से 2 सीटों पर कांग्रेस, जबकि आरजेडी और सीपीआई के खाते में एक-एक सीट आई।

इन इलाकों में दबदबा
महिला वोटर्स की बात करें तो उत्तर बिहार, कोशी और सीमांचल के इलाके में महिला मतदाताओं का दबदबा रहा है। पिछली बार की तरह इस बार इन्हीं सीटों पर महिला मतदाताओं की संख्या ज्यादा रही। ऐसे में एनडीए को खासकर जेडीयू को इस इलाके से काफी उम्मीद है।

दिवाली जैसे त्योहार के मौके पर भारतीय रेलवे ने रद्द की ये ट्रेनें, यात्रा से पहले देखें पूरी लिस्ट

इस सीट पर सबसे ज्यादा मतदान
पिछले चुनाव में महिलाओं का सबसे ज्यादा वोट प्रतिशत किशनगंज के ठाकुरगंज विधानसभा सीट पर रहा, जहां सबसे अधिक 77.15 फीसदी महिलाओं ने मतदान किया था। ये सीट जेडीयू के खाते में गई थी।
इसके बाद कटिहार में 75.75 फीसदी महिलाओं ने वोट किए था, ये सीट बीजेपी के खाते में गई थी। जबकि तीसरे नंबर पर कटिहार का बलरामपुर था, जहां महिलाओं ने 74.60 फीसदी वोट किया और ये सीट सीपीआई को मिली।