यहां रखा हुआ है गणपति का कटा हुआ सिर, होते हैं सभी देवी-देवताओं के साक्षात दर्शन भी

|

Published: 26 Aug 2017, 04:20 PM IST

1/4
सनातन धर्म में प्रथम पूज्य गणपति गणेश के जन्म को लेकर कई कथाएं प्रचलित हैं। इन सभी में एक बात कॉमन है कि एक बार भगवान शिव ने क्रोध में आकर उनका सिर काट दिया था जिसे बाद में हाथी का मस्तक लगाकर उन्हें पुनर्जीवित किया गया। गणेशजी के इस कटे हुए सिर को भगवान शिव ने एक गुफा में सुरक्षित रख दिया था जो आज भी सुरक्षित है। आगे की फोटोज में जानिए पूरी कहानी....