Pakistan: COVID-19 से मुकाबला के लिए इमरान सरकार लेगी 150 करोड़ डॉलर का कर्ज

|

Updated: 20 Jun 2020, 04:20 PM IST

HIGHLIGHTS

  • कोरोना वायरस यानी COVID-19 से मुकाबला करने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( PM Imran Khan ) ने अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं से कर्ज ( Loan ) लेने का फैसला किया है।
  • प्रधानमंत्री कार्यालय ने विश्व बैंक ( World Bank ), एशियाई विकास बैंक ( Asian Development Bank ) और एशियाई इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बैंक ( Asian Infrastructure Development Bank ) के साथ समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में लगातार कोरोना ( Coronavirus In pakistan ) के मामले बढ़ते जा रहे हैं और अब हालात बेहद ही खराब स्थिति में पहुंच गया है। लेकिन आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान के पास कोरोना से लड़ने के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं नहीं है। ऐसे में कोरोना वायरस यानी COVID-19 से मुकाबला करने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ( PM Imran Khan ) ने अंतर्राष्ट्रीय संस्थाओं से कर्ज ( Loan ) लेने का फैसला किया है।

इमरान खान ने COVID-19 संकट का मुकाबला करने के लिए तीन अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों के साथ 150 करोड़ डॉलर के ऋण समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। शनिवार को इसकी जानकारी दी गई है।

कोरोना संक्रमण ने सुस्त हुआ मलेरिया विभाग...जून माह में नहीं हो रही गतिविधियां, जानें स्थिति

डॉन समाचार की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री कार्यालय ने शुक्रवार को विश्व बैंक ( World Bank ), एशियाई विकास बैंक ( Asian Development Bank ) और एशियाई इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट बैंक ( Asian Infrastructure Development Bank ) के साथ समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

पाकिस्तान को मिलेगा 150 करोड़ डॉलर का ऋण

रिपोर्ट में बताया गया है कि सरकार स्वास्थ्य प्रणाली को मजबूत करने और महामारी के सामाजिक प्रभावों को कम करने के पाकिस्तान सरकार के प्रयासों का समर्थन करने के उद्देश्य से ADB कोविड-19 एक्टिव रिस्पांस एंड एक्सपेंडिचर सपोर्ट प्रोग्राम में 50 करोड़ डॉलर का विस्तार कर रहा है।

एआईआईबी भी इसी कार्यक्रम के तहत 50 करोड़ डॉलर की को-फाइनेंसिंग कर रहा है। इसी तरह 50 करोड़ डॉलर का एक और समझौता हुआ है। अगले कुछ दिनों में 150 करोड़ डॉलर की यह ऋण राशि पाकिस्तान को दी जाएगी।

Corona Test के लिए फ्रीजर में रखा रहा शव, रिपोर्ट आई नेगेटिव, तीन दिन बाद पहचनना हो गया मुश्किल

आपको बता दें कि इससे पहले मई महीने में एशिया डिवेलपमेंट बैंक ने 30.5 करोड़ डॉलर के बराबर आपातकालीन कोविड-19 कर्ज सहायता देने पर सहमति जताई थी। 'एक्सप्रेस ट्रिब्यून' ने अपनी रिपोर्ट में बताया था कि यह कर्ज पाकिस्तान को चिकित्सा उपकरण खरीदने और गरीब महिलाओं को नकद सहायता देने के लिए मंजूर किया जा रहा है।

मालूम हो कि अप्रैल महीने में पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष ( IMF ) से 1.39 अरब डॉलर का आपात ऋण और विश्व बैंक से मौजूदा हालात में स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए 20 करोड़ डॉलर की सहायता मिली थी।

पाकिस्तान में अब तक 3382 की मौत

आपको बता दें कि पाकिस्तान में कोरोना वायरस से शनिवार तक मरने वालों की संख्या 3382 तक पहुंच गई है, जबकि संक्रमितों की कुल संख्या 1,71,666 हो गई है। पाकिस्तान के सिंध में सबसे अधिक 65163, पंजाब में 64216, इस्लामाबाद में 10279, बलुचिस्तान में 9162, खैबर पख्तूनख्वाह में 20790 मामले अब तक सामने आ चुके हैं। वहीं पूरे देश में अब तक 63054 लोग रिकवर हो चुके हैं।