Pakistan में छिड़ा गृहयुद्ध! सेना और सिंध पुलिस के बीच संघर्ष में 10 की मौत

|

Updated: 22 Oct 2020, 08:56 PM IST

HIGHLIGHTS

  • Civil War Broke Out In Pakistan: सिंध प्रांत में पुलिस और सेना के बीच टकराव शुरू हो गया है। दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी की घटना भी हो रही है।
  • सिंध पुलिस और पाक सेना के बीच भीषण गोलीबारी के दौरान सेना ने पुलिस अधीक्षक आफताब अनवर को हिरासत में ले लिया है।

इस्लामाबाद। आजादी के बाद से ही पाकिस्तान ( Pakistan ) की सत्ता में सेना का वर्चस्व रहा है और कई बार तख्तापलट ( Pakistan Coup ) करते हुए सत्ता पर कब्जा जमाया। अब एक बार फिर से कुछ ऐसे ही हालात नजर आ रहे हैं। विपक्षी दलों की ओर से लगातार इमरान सरकार ( Imran Khan Government ) पर दबाव बनाया जा रहा है और सेना की कठपुतली बताकर देश में एक जनआंदोलन खड़ा कर दिया है।

ऐसे में विपक्षी दलों, पुलिस और सेना के बीच शुरू हुई तनातनी के बाद गृह युद्ध ( Civil War Situation In Pakistan ) जैसे हालात बन गए हैं। सिंध प्रांत में पुलिस और सेना के बीच टकराव शुरू हो गया है। दोनों पक्षों के बीच गोलीबारी भी हो रही है। गोलीबारी की इस घटना में 10 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

इमरान खान की खुली पोल, पाकिस्तान की संसद ने माना हिन्दुओं का हो रहा है जबरन धर्मांतरण

मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि सेना और सिंध पुलिस के बीच संघर्ष में अब तक 10 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई लोग घायल हुए हैं। मरने वालों में सेना के पांच जवान शामिल है। हालांकि पाकिस्तानी मीडिया इस पूरे घटनाक्रम को छिपाने में जुट गया है। सिंध पुलिस और पाक सेना के बीच भीषण गोलीबारी के दौरान सेना ने पुलिस अधीक्षक आफताब अनवर को हिरासत में ले लिया है।

इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष का प्रदर्शन

आपको बता दें कि पाकिस्तान में इमरान सरकार के खिलाफ लगातार लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है और 11 विपक्षी दलों ने एक गठबंधन ‘पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट’ (PDM) बनाकर इमरान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

पिछले 16 अक्टूबर को PDM ने पंजाब के गुजरांवाला में एक विशाल रैली आयोजित की थी, जिसके बाद से हालात खराब हुए हैं। रैली को संबोधित करते हुए मरियम नवाज ने प्रधानमंत्री इमरान खान को खुलेआम मंच से कायर और सेना की कठपुतली कहा था। उन्होंने कहा था कि इमरान खान अपनी नाकामी को छिपाने के लिए सेना के पीछे जाकर छिप जाते हैं।

Afghanistan: पाकिस्तान का वीजा लेने पहुंचे हजारों लोग, भगदड़ मचने से 12 महिलाओं की मौत

इस रैली के बाद ही सोमवार को सिंध पुलिस ने मरियम नवाज और उनके पति सफदर अवान को कराची से एक होटल से गिरफ्तार कर लिया था। बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया था। पाकिस्तान के प्रमुख अखबार 'डॉन' की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि सिंध में शुरू हुए इस संघर्ष के बाद तमाम बड़े पुलिस अधिकारियों ने छुट्टी पर जाने का फैसला किया है। इनमें कम से कम दो अतिरिक्त महानिरीक्षक, सात डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल और छह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहित कई बड़े अधिकारी शामिल हैं।

फिलहाल, सिंध सरकार की तरफ से अधिकारियों के छुट्टी पर जाने को लेकर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आया है। इधर सिंध में बिगड़ते हालात को लेकर पूरे पाकिस्तान में तनाव का माहौल है।