हॉकी इंडिया को मिला प्रतिष्ठित एटिनी ग्लिचिट्च पुरस्कार

|

Published: 22 May 2021, 11:57 AM IST

47वें एफआईएच कांग्रेस के हिस्से के रूप में आयोजित वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने हॉकी इंडिया को इस पुरस्कार से सम्मानित किया।

देश में खेल की प्रगति और विकास में योगदान के लिए हॉकी इंडिया को प्रतिष्ठित एटिनी ग्लिचिट्च पुरस्कार के लिए चुना गया। शुक्रवार को 47वें एफआईएच कांग्रेस के हिस्से के रूप में आयोजित वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (एफआईएच) ने हॉकी इंडिया को इस पुरस्कार से सम्मानित किया। एफआईएच ने एक विज्ञप्ति में कहा कि हॉकी की प्रगति और विकास में शानदार योगदान के लिए मान्यता देते हुए हॉकी इंडिया को एटिनी ग्लिचिट्च पुरस्कार का विजेता घोषित किया गया है। इस समारोह के दौरान हॉकी में उत्कृष्ट योगदान के लिए कई व्यक्तियों, टीमों और संगठनों को भी सम्मानित किया गया।

हॉकी इंडिया ने एफआईएच को दिया धन्वाद
हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्र निंगोमबम ने इस पुरस्कार के लिए एफआईएच के प्रति आभार व्यक्त किया। हॉकी इंडिया की जारी प्रेस रिलीज में ज्ञानेंद्र ने कहा कि वे हॉकी इंडिया की ओर से इस सम्मान के लिए FIH को धन्यवाद देते हैं। उनका कहना है कि यह पुरस्कार न केवल हॉकी इंडिया में उनकी टीम वर्क की मान्यता है, बल्कि यह उन्हें भारत और दुनिया भर में खेल को आगे बढ़ाने के अपने प्रयास में उत्कृष्टता और नवाचार जारी रखने के लिए प्रेरित करेगा।

यह भी पढ़ें— टोक्यो में इतिहास रच सकती है भारतीय महिला हॉकी टीम : हेलेन मैरी

इन संगठनों को भी किया गया सम्मानित
हॉकी इंडिया के अलावा इन पुरस्कारों में अन्य संगठनों को भी सम्मानित किया गया। उज्बेकिस्तान हॉकी महासंघ को पाब्लो नेग्रे पुरस्कार दिया गया। यह सम्मान नया बुनियादी ढांचा तैयार करके खेलने के हालात में सुधार और युवा विकास मॉडल लागू करने के लिए दिया गया है। वहीं पोलिश हॉकी संघ को थियो इकेमा पुरस्कार के लिए चुना गया। यह पुरस्कार विभिन्न हॉकी विकास परियोजनाओं के जरिए 30 नए प्रशिक्षित कोच तैयार करने और देश में 3000 से अधिक स्कूली बच्चों को खेल से जोड़ने के लिए दिया गया है।

इंग्लैंड के सैम वार्ड और न्यूजीलैंड के शेरोन को भी मिला अवॉर्ड
इस समारोह में इंग्लैंड के स्ट्राइकर सैम वार्ड और न्यूजीलैंड के शेरोन विलियमसन को भी पुरस्कार दिए गए। इंग्लैंड के स्ट्राइकर सैम वार्ड को सुपर फेयर प्ले ट्रॉफी रेने जी फ्रेंक दी गई। वहीं न्यूजीलैंड के शेरोन विलियमसन को आकलैंड के नए राष्ट्रीय हॉकी केंद्र में घंटों स्वैच्छिक सेवा के लिए एचआरएच सुल्तान अजलन शाह पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसके अलावा क्रोएशिया के इवोना मकार को अंपायरिंग के विकास में अहम भूमिका निभाने के लिए व्यक्तिगत गुस्ट लाथोवर्स मेमोरियल ट्रॉफी के लिए चुना गया।