Noida: बाल सुधार गृह से गेट तोड़कर फरार हुए तीन किशोर बंदी, दो को पुलिस ने फिर पकड़ा

|

Updated: 02 Aug 2020, 06:22 PM IST

Highlights:

-शनिवार तड़के की घटना

-पुलिस ने केस दर्ज किया

-फरार किशोर की तलाश में जुटी पुलिस

नोएडा। फेेज-टू स्थित बाल सुधार गृह से कोरोना संक्रमित 13 किशोर बंदियों में से तीन शनिवार देर रात आइसोलेशन वार्ड में से फरार हो गए। जिनमें से पुलिस ने दो को दोबारा पकड़ लिया है, जबकि एक अभी भी फरार है। पुलिस के मुताबिक किशोर बंदियों ने लोहेे की चादर से बने आइसोलेशन वार्ड के दरवाजा को मोड़ दिया और उसमें से निकलकर फरार हो गए। इस मामले में पुलिस ने फेज-दो थाने में एफआईआर दर्ज की है।

यह भी पढ़ें: Dial 112 PRV पर बैठकर खिचवाया फोटो और कर दिया वायरल, पुलिस ने देखा तो कर दिया बुरा हाल

नोएडा सेंट्रल के एडिशनल डीसीपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि फेज टू थाना क्षेत्र में पुराने कोर्ट परिसर में किशोर बंदी गृह बना हुआ है। इसमें करीब 150 किशोर अपराधी निरूद्ध हैं। शनिवार की सुबह तीन लड़के भाग निकले। इनमें से एक को एनएसईजेड मेट्रो स्टेशन के पास से और एक को भंगेल से पकड़ लिया गया है। अब केवल एक लड़का फरार है।

एडिशनल डीसीपी ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए बाल सुधार गृह में एक आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है। इसमें ही बच्चे रखे गए थे। जानकारी के अनुसार फरार हुए किशोरों ने पहले से ही यह योजना बना रखी थी। केयर टेकर से पूछताछ में पता चला है कि खाना खाकर बच्चे अपने साथियों से जल्दी सोने की बात कहकर कमरे में लेट गए थे। केयर टेकर भी बाद में जाकर अपने कमरे में बैठ गया। रात में तीन बच्चेेेे वार्ड का गेट मोड़कर फरार हो गए।

यह भी पढ़ें: चोरी कर रहे युवक की पीट-पीटकर हत्या, पुलिस ने छह लोगों को हिरासत में लिया

पहले भी फरार हो चुके किशोर

गौरतलब है कि नोएडा के बाल सुधार गृह से पहले भी किशोर बंदी फरार हो चुके हैं। वर्ष 2015 में 15 लड़के फरार हो गए थे। इन्हें पुलिस ने करीब एक महीने की मशक्कत के बाद पकड़ा था। वहीं 2018 में भी तीन किशोर फरार हो गए थे। जिन्हें पुलिस ने बाद में पकड़ लिया