Latest News in Hindi

करणी सेना ने कांग्रेस के दिग्गज नेता को दिखाए काले झंडे, लगाए वापस जाओ के नारे

By harinath dwivedi

Sep, 12 2018 05:12:39 (IST)

करणी सेना ने कांग्रेस के दिग्गज नेता को दिखाए काले झंडे, लगाए वापस जाओ के नारे

नीमच। जैसे ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ का काफिला शहर के फव्वारा चौक पहुंचा। करणी सेना और सपाक्स द्वारा काले झंडे दिखाकर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं उन्हें वापस लौट जाने के नारे लगाए गए। इस दौरान कुछ लोगों ने उनके काफिले पर पत्थर भी फेंके।

मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के आगमन पर जहां एक ओर कांग्रेसियों द्वारा उत्साह के साथ स्वागत किया, वहीं करणी सेना द्वारा उनके शहर में प्रवेश करते ही विरोध प्रदर्शन किया। प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के पहुंचने से पूर्व शहर में करणी सेना व सपाक्स द्वारा काले झंडे दिखाकर विरोध दर्ज कराते हुए उन्हें वापस जाने के नारे लगाने की तैयारी की कर ली थी।

 

बता दें कि मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ का बुधवार को नीमच आगमन हुआ। वे दशहरा मैदान में एक आमसभा को संबोधित करने वाले थे।

इस सभा के लिए कांग्रेसजनों में जोश व उत्साह देखा जा रहा है। प्रदेश अध्यक्ष के आगमन से पूर्व विभिन्न नेताओं द्वारा रैलियां निकालकर अपनी दावेदारी का प्रदर्शन किया गया। शहर के मुख्य चौराहों से कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर समर्थकों ने एक विशाल रैली निकालकर अपने दावेदारी पेश की जा गई। वहीं अन्य कांग्रेसी नेता भी अपने अपने स्तर पर अपनी दावेदारी पेश करने में जुट गए। जिला कार्यवाहक अध्यक्ष राजकुमार अहीर ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के साथ क्षेत्र की पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन एवं अन्य वरिष्ठ नेता भी उपस्थित हैं।

अहीर ने बताया कि कमलनाथ हेलीकाप्टर द्वारा नीमच आए। वे बुधवार दोपहर नीमच हवाई पट्टी हिंगोरिया फाटक के पास उतरेे यहां से वाहनों के काफिले के साथ रैली के रूप में शहर में आगमन हुआ । शहर कांग्रेसजन उन्हें रैली के रूप में दशहरा मैदान ले आए जहां वे महती आमसभा को संबोधित करेंगे।

शहर के मुख्य चौराहे फव्वारा चौक पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के पहुंचने से पूर्व करणी सेना और सपाक्स द्वारा विरोध के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। सभी ने काले कपड़े पहनकर बैनर पर एससी एसटी एक्ट पर तुम क्यों रहे मौन, वापस जाओ वापस जाओ कमलनाथ वापस जाओ के नारों के साथ प्रदर्शन किया।