महाराष्ट्र: वर्धा नदी में नाव पलटने से 11 लोगों की डूबने से मौत! 3 लोगों के शव बरामद

|

Published: 14 Sep 2021, 04:30 PM IST

ये घटना अमरावती जिले की है। सभी लोग नदी के तट पर एक रीति-रिवाज संपन्न कर नाव से वापस लौट रहे थे।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र (Maharashtra) की वर्धा नदी (Wardha river) में नाव पलटने से एक बड़ा हादसा सामने आया है। इस हादसे में 11 लोगों की डूबने से मौत होने की आशंका जताई गई है। वहीं तीन लोगों के शव अब तक बरामद किए जा चुके हैं, अन्य लोगों की तलाश की जा रही है।

ये घटना अमरावती जिले की है। यहां पर बहने वाली वर्धा नदी में यह हादसा उस समय हुआ जब सभी लोग नदी के तट पर एक रीति-रिवाज संपन्न कर नाव से वापस लौट रहे थे।

ये भी पढ़ें: नीतीश कुमार के पीएम मैटेरियल' पर बोले शाहनवाज हुसैन, कहा- PM मोदी के रहते नो वैकेंसी

हादसे के बाद पुलिस और जिला आपदा प्रबंधन की टीम ने मिलकर अब तक 3 शव बरामद करे हैं। मरने वालों में एक नाबालिग लड़की भी शामिल है।

कुल 11 लोग सवार थे

ये हादसा मंगलवार की सुबह करीब 10.30 मिनट पर हतराना गांव के पास हुआ। यह क्षेत्र बेनोदा पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आता है। पुलिस का कहना है कि इस नाव पर तीन परिवार के कुल 11 लोग सवार थे। एक छोटी नाव में क्षमता से ज्यादा लोग सवारी कर रहे थे। इस नाव में पांच से छह लोग ही सवार हो सकते थे। ज्यादा लोग होने के कारण नाव असंतुलित हो गई और बीच नदी में पलट गई। तेज बहाव होने के कारण सभी लोग नदी में बह गए।

विधायक देवेंद्र भी घटनास्थल पर पहुंचे

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार यह सभी लोग दशक्रिया अनुष्ठान के लिए गाडेगांव में आए हुए थे। यहां से लौटते समय अचानक यह हादसा हुआ था। घटना के दौरान पुलिस के अलावा इलाके के विधायक देवेंद्र भी घटनास्थल पर पहुंच गए। गोताखोरों की सहायता से हादसे में डूबे अन्य लोगों की तलाश की जा रही है। पुलिस इस हादसे की छानबीन कर रही है।

दो नाव आपस में टकरा गई थीं

राज्य में इससे पहले पिछले हफ्ते असम में भी बड़ा नाव हादसा देखने को मिला। वहां जोरहाट नदी में दो नाव आपस में टकरा गई थीं, इससे एक नाव पलट गई। उस पर सवार 80 से अधिक लोग डूब गए। हादसे में अधिकतर लोगों को बचा लिया गया था। हादसे के बाद तीन शवों को बरामद करा गया था।