बिना परीक्षा 12वीं बोर्ड के तीनों संकायों का परिणाम जारी, नागौर में विज्ञान-वाणिज्य में उत्तीर्ण होने वाले सभी प्रथम श्रेणी

|

Published: 25 Jul 2021, 11:56 AM IST

कला में 32 विद्यार्थी द्वितीय श्रेणी उत्तीर्ण
विद्यार्थियों के अंक बढ़े पर प्रदेश में जिले की पॉजीशन गिरी

नागौर. कोरोना महामारी की दूसरी लहर के चलते उत्पन्न हुई विपरीत परिस्थितियों के चलते बारहवीं बोर्ड की परीक्षा कराए बिना शनिवार को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा जारी किए गए विज्ञान, वाणिज्य एवं कला वर्ग के परिणाम को देखकर विद्यार्थियों के चेहरे खिल गए। नागौर जिले में तीनों संकायों में कुल 45 हजार 446 विद्यार्थियों में से कला वर्ग के 32 विद्यार्थियों को छोडकऱ शेष 45 हजार 414 विद्यार्थी प्रथम श्रेणी उत्तीर्ण हुए हैं।
बिना परीक्षा जारी हुए परिणाम में विद्यार्थियों के अंक जरूर बढ़े हैं, लेकिन प्रदेश में नागौर जिले की पॉजिशन गिरी है। पिछले पांच-सात साल से नागौर जिले के विद्यार्थी तीनों संकायों में बेहतर प्रदर्शन कर रहे थे और प्रदेश में नागौर जिले की रैंक भी टॉप-5 के अंदर थी, लेकिन इस बार तीनों ही संकायों में नागौर जिले का नम्बर 10 से बाहर है।

तीनों संकायों का परिणाम - एक नजर
विज्ञान संकाय
कुल पंजीकृत विद्यार्थी - 15,301
छात्र - 10046
छात्रा - 5255
परीक्षा में शामिल माना
कुल - 15,296
छात्र - 10043
छात्रा - 5253
कुल उत्तीर्ण - 15,234 - सभी प्रथम श्रेणी
प्रतिशत - 99.59
नागौर का प्रदेश में 14वां स्थान।

वाणिज्य संकाय
कुल पंजीकृत विद्यार्थी - 917
छात्र - 6426
छात्रा - 275
परीक्षा में शामिल माना
कुल - 915
छात्र - 641
छात्रा - 274
कुल उत्तीर्ण - 912 - सभी प्रथम श्रेणी
प्रतिशत - 99.67
नागौर का प्रदेश में 26वां स्थान।

कला संकाय
कुल पंजीकृत विद्यार्थी - 29,240
छात्र - 14,843
छात्रा - 14,397
परीक्षा में शामिल माना
कुल - 29,235
छात्र - 14,840
छात्रा - 14,395
कुल उत्तीर्ण - 28,983 - प्रथम श्रेणी
द्वितीय श्रेणी - 32
प्रतिशत - 99.25
नागौर का प्रदेश में 15वां स्थान।

गत वर्ष के परिणाम में नागौर की स्थिति
12वीं विज्ञान वर्ग में नागौर प्रदेश में चौथे स्थान पर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर द्वारा गत वर्ष जारी किए गए बारहवीं विज्ञान वर्ग के परिणाम में नागौर ने औसत परिणाम 94.35 प्रतिशत के साथ प्रदेश में चौथा स्थान प्राप्त किया था। बोर्ड परिक्षाओं में नागौर का परिणाम पिछले आठ सालों से काफी अच्छा रह रहा था। विज्ञान वर्ग में वर्ष 2014 से 2018 तक नागौर जिले के विद्यार्थियों ने बेहतर परिणाम देते हुए प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त किया था। इसी प्रकार वाणिज्य वर्ग के परिणाम में गत वर्ष नागौर जिला 8वें स्थान पर था। गत वर्ष जिले का औसत परिणाम 96.72 प्रतिशत रहा था। वहीं कला वर्ग में नागौर प्रदेश में 9वें स्थान पर रहा था।