अब भूल जाइए ईएमआई की टेंशन लेना, इस तरह करेंगे लोन का भुगतान तो नहीं होंगे परेशान

|

Published: 15 Jan 2019, 03:59 PM IST

अब से आपको कभी भी ईएमआई का भुगतान नहीं करना होगा। ये सुनने में कितना अच्छा लगता है, लेकिन क्या ऐसा हो सकता है कि आपको किसी भी कर्ज का भुगतान ही न करना हो।

नई दिल्ली। अब से आपको कभी भी ईएमआई का भुगतान नहीं करना होगा। ये सुनने में कितना अच्छा लगता है, लेकिन क्या ऐसा हो सकता है कि आपको किसी भी कर्ज का भुगतान ही न करना हो। आज के समय में हम सभी के पास कार लोन, एजुकेशन लोन और पर्सनल लोन होता ही है। इसके अलावा क्रेडिट कार्ड का भुगतान भी करना होता है। तो ऐसे में हम कैसे बिना अपने ईएमआई के भुगतान को कम कर सकते हैं। इसके बारे में आज हम आपको बताते हैं।


अब भूल जाइए ईएमआई की टेंशन

आज हम आपके एक ऐसी पद्धति के बारे में बताते हैं, जिससे आप अपनी ईएमआई को भूलकर आसानी से अपना जीवन जी सकते हैं। इस तकनीकी का नाम ऋण स्नोबॉल पद्धति है। ये बहुत ही ज्यादा लोकप्रिय मॉडल है। आइए हम इसके बारे में आपको विस्तार से बताते हैं।


ऋण स्नोबॉल क्या है और यह कैसे काम करता है-

अगर आप भी अपने लोन से बाहर आना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अपने छोटे ऋण का भुगतान करना शुरू करना चाहिए। उसके बाद ही आपको बड़े लोन के बारे में सोचना चाहिए। ये लोन की प्रक्रिया उन लोगों के विपरीत है जो सोचते हैं कि ऊंची ब्याज दर पर हमें अपने कर्ज का भुगतान कर देना चाहिए और उससे बाहर निकल जाना चाहिए। जबकि ये बिल्कुल गलत सोच है। ऐसा करने से हमें अपने कर्ज के बदले में ज्यादा पैसे चुकाने होते हैं।


आइए हम आपको बतातें हैं कि आप कैसे अपने लोन का भुगतान कम कर सकते हैं-

1.सबसे पहले आप अपने ऋण को सबसे छोटे से लेकर सबसे बड़े के क्रम में लगाए।

2.इसके बाद आप अपने छोटे लोन को छोड़कर जितने भी बड़े लोन है उनका न्यूनतम भुगतान कर दें।

3.इसके बाद अपने सबसे छोटे कर्ज पर जितना हो सके उतना भुगतान करें।

4.इस प्रक्रिया को आप तब तक दोहराएं जब तक सारे लोन का पूरा भुगतान न हो जाए।

5.इसके अलावा अगर आपके पास कोई अतिरिक्त नकदी प्रवाह है तो आप उसका प्रयोग सबसे छोटे ऋण का भुगतान करने के कर सकते हैं।


वहीं, अगर आप सबसे बड़े लोन से शुरूआत करेंगे तो आप इतनी जल्दी अपने लोन से छुटकारा नहीं पा सकते हैं। इसलिए आपको हमेशा ही छोटे से बड़े क्रम में लोन का भुगतान करना चाहिए।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर