जल्द निकाल लें अपने मोबाइल वॉलेट से सारा पैसा, RBI का बड़ा फैसला

|

Published: 22 Feb 2018, 12:33 PM IST

अगर आप पैसे का लेन- देन मोबाइल वॉलेट के जरिए करते हैं। तो सावधान हो जाइए

नई दिल्ली। अगर आप पैसे का लेन- देन मोबाइल वॉलेट के जरिए करते हैं। तो सावधान हो जाइए, क्योंकि मोबाइल वॉलेट को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक बड़ा फैसला करने जा रही है। दरअसल मोबाइल वॉलेट कंपनियों ने केवाइसी नियमों का पालन नहीं किया है। जिसके चलते मार्च से देश भर में चल रहे कई मोबाइल वॉलेट बंद करने का फैसला हो सकता है।
क्यो बंद होगी सुविधा
रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने देश में लाइसेंस प्राप्त सभी मोबाइल वॉलेट कंपनियों को अपने ग्राहकों का केवाईसी नियमों को पूरा करने के लिए फरवरी 2018 तक का वक्त दिया था। ज्यादातर कंपनियां आरबीआई के इस आदेश को पूरा नहीं कर पाई हैं। अगर फरवरी तक यह पूरा नहीं हुआ तो देश भर में कई कंपनियों के मोबाइल वॉलेट बंद हो जाएंगे।
ऐसे हो सकता है सुरक्षित
बाजार में कई तरह के मोबाइल वॉलेट औऱ एप एयरटेल मनी, पेटीएम आदि कंपनियां ग्राहकों को समय-समय पर केवाईसी पूरा करने के लिए सूचित कर रही है। ग्राहकों को अपने मोबाइल वॉलेट को आधार कार्ड और पैन कार्ड से लिंक कराना होगा, इस तरह से केवाईसी पूरा हो जाएगा। इसके बाद आपका मोबाइल वॉलेट सुरक्षित हो जाएगा।

इतने अकाउंट बंद हो सकते है।
फरवरी खत्म होने को है औऱ अभी भी देश में केवल 9 फीसदी से कम मोबाइल वॉलेट उपभोक्ताओं ने अपने केवाईसी कंपनियों को दिया है। तो अब साफ है कि ऐसे में देश में 91 फीसदी से अधिक मोबाइल वॉलेट अकाउंट बिना केवाईसी के चल रहे हैं। अब इन 91 फीसदी उपभोक्ताओं के अकाउंट के बंद होने की आशंका है।

क्या होता है मोबाइल वॉलेट

आज के दौर में हर कोई स्मार्टफोन इस्तेमाल कर रहे हैं और मोबाइल वॉलेट भी स्मार्टफोन यूजर की जिंदगी का हिस्सा बन गए हैं। अधिकतर लोग किसी ना किसी वजह से मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करते ही हैं। किसी के लिए मोबाइल वॉलेट फोन रीचार्ज तो किसी के लिए टैक्सी के पैसे चुकाने का जरिया है। वहीं कुछ लोग कैफे कॉफी डे या किसी मेडिकल शॉप पर भी भुगतान के लिए मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं।आज बाजार में लगभग हर तरह के ब्रांडेड वॉलेट मौजूद हैं, जिनमें ग्लोबल से लेकर भारतीय, टेक कंपनी से लेकर टेलीकॉम प्लेयर और बैंक तक शामिल हैं।