बच्चा पैदा होते ही करा दीजिए एलआईसी, कुछ ही वर्षों में बन जाएगा लखपति

|

Published: 07 Feb 2021, 04:33 PM IST

  • एलआईसी की 'न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक प्‍लान' करना होता है 150 रुपए का निवेश
  • न्यूनतम बीमा राशि 10,000 रुपए और अधिकतम बीमा राशि की कोई सीमा नहीं

नई दिल्ली। कुछ ही महीनों में एलआईसी का आईपीओ आ जाएगा। उसके बारे में तो आप ध्यान रखेंगे ही, लेकिन अगर आप अपने नवजात बच्चे के फ्यूचर को अभी से सिक्योर करना चाहते हैं तो एलआईसी का 'न्‍यू चि‍ल्‍ड्रन्‍स मनी बैक प्‍लान' में निवेश कर सकते हैं। कुछ ही सालों में आपका बच्चा लखपति बन जाएगा, वो भी नौकरी लगने से पहले। उसके बाद उसे अपनी हायर स्टडी से लेकर और खुद का बिजनेस शुरू करने से लेकर ज्यादा चिंता करने की जरुरत नहीं होगी। ना ही आपको। आइए आपको भी बताते हैं कि इस प्लान के बारे में...

यह भी पढ़ेंः- विदेशी निवेशकों ने भारतीय बाजार को किया मालामाल, पांच दिन में 12,266 करोड़ रुपए का किया निवेश

पॉलिसी की खासियत
- इस पॉलिसी को लेने की न्यूनतम आयु 0 वर्ष और अधिकतम आयु 12 वर्ष है।
- पॉलिसी की मिनिमम राशि 10 हजार रुपए और अधिकतम राशि की कोई सीमा नहीं है।
- पॉलिसी में प्रीमियम वेवर बेनिफिट राइडर-ऑप्शन भी है मौजूद।
- एलआईसी के न्यू चिल्ड्रेन्स मनी बैक प्लान का कुल टर्म 25 साल का होता है।

यह भी पढ़ेंः- कोविड टैक्स पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बयान, करोड़ों लोगों को दी बड़ी राहत

इस तरह से होता है भुगतान
इस प्लान के अनुसार एलआईसी बच्चे के 18 साल, 20 साल और 22 साल के पूरा होने पर बेसिक सम इंश्योर्ड की 20-20 फीसदी राशि का भुगतान होता है। बाकी 40 फीसदी पेमेंट पॉलिसी होल्डर के 25 साल पूरे होने पर होगा। साथ ही सभी तरह के बकाया बोनस का भुगतान हो जाएगा। अगर पॉलिसी मैच्योरिटी होने से पहले पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है तो बीमा राशि के अलावा निहित साधारण प्रत्यावर्ती बोनस और अंतिम अतिरिक्त बोनस दिया जाएगा। डेथ बेनिफिट कुल प्रीमियम पेमेंट का 105 फीसदी से कम नहीं होगा।