June के मुकाबले July में Health Insurance Claim करने वालों में 240 फीसदी का इजाफा

|

Published: 03 Aug 2020, 02:25 PM IST

  • GIC के मुताबिक जुलाई के अंतिम सप्ताह तक 71423 लोगों ने कोरोना के इलाज के लिए किया 1145.87 करोड़ रुपए का क्लेम
  • देश में वायरस से संक्रमित कुल लोगों में से केवल 4.08 फीसदी लोगों ने ही किया Health Insurance Claim

नई दिल्ली। जैसे-जैसे देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के पेशेंट्स की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है वैसे हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम ( Health Insurance Claim ) में भी बढ़ोतरी हुई है। ताजा आंकड़ों पर गौर करें तो जुलाई महीने के अंतिम सप्ताह तक जून के मुकाबले 240 फीसदी हेल्थ इंश्योरेंस क्लेम में इजाफा ( Health Insurance Claim Increase ) देखने को मिला है। वहीं देश के कुल संक्रमित लोगों में से सिर्फ 4 फीसदी ने ही क्लेम किया है। आपको बता दें कि यह आंकड़ा जनरल इंश्योरेंस काउंसिल ( General Insurance Council ) की ओर से जारी है। देश में मौजूदा समय कोरोना के मामलों की संख्या 18 लाख पार कर गई है। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर किस तरह के आंकड़ों देखने को मिले हैं।

यह भी पढ़ेंः- मांग में कमजोरी के कारण Manufacturing Sector में लगातार चौथे महीने आई गिरावट

जीआईसी के आंकड़े
- देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 18 लाख के पार पहुंची।
- जुलाई में हेल्थ क्लेम की संख्या 240 फीसदी बढ़ी।
- जुलाई के अंतिम सप्ताह तक 71423 लोगों हेल्थ क्लेम किया।
- लोगों ने कोरोना इलाज के लिए 1145.87 करोड़ रुपए का क्लेम किया।
- इससे पहले 22 जून तक केवल 20965 लोगों ने किया था क्लेम।
- कोरोना के इलाज के लिए क्लेम का रुपया था 323 करोड़।

यह भी पढ़ेंः- भारतीय अगरबत्ती से चीन का धुआं निकालने की कोशिश, Khadi Agarbatti Atmanirbhar Mission को मंजूरी

सिर्फ 4 फीसदी लोगों ने किया क्लेम
कोरोना वायरस के हेल्थ क्लेम में बढ़ोतरी के बाद भी कुल मामलों में क्लेम करने वालों की संख्या सिर्फ 4 फीसदी है। ताज्जुब की बात तो ये है कि देश में 18 लाख मामलों में अभी तक सभी के लोगों के हेल्थ इंश्योरेंस नहीं है। अगर बात प्रति व्यक्ति औसत क्लेम की करें तो 1.60 लाख रुपए है। देश में कोरोना वायरस महामारी से मरने वालों की संख्या 37 हजार से अधिक हो चुकी है। देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी एलआईसी के पास 561 डेथ क्लेम देखने को मिल है, जिनकी राशि 26.74 करोड़ रुपए है।

यह भी पढ़ेंः- रक्षाबंधन पर घरेलू बाजार में Gold और Silver हुआ महंगा, अमरीका में बनाया नया रिकॉर्ड

पर्याप्त नहीं है हेल्थ कवर साइज
देश में इंश्योरेंस इंडस्ट्री हेल्थ कवर का औसत साइज 2 लाख रुपए हैं। कोरोना वायरस से पूरे परिवार को खतरा होने का डर रहता है। ऐसे में हेल्थ इंश्योरेंस कवर साइज काफी छोटा है। जानकारों की मानें तो कुल क्लेम मामलों में आयुष्मान भारत से संबधित दावों को भी शामिल किया गया है। इस योजना के तहत लाभार्थी परिवार को 5 लाख रुपए तक का कवर दिया जाता है। जानकारों की मानें तो अगस्त के महीने में क्लेम करने वालों की संख्या में और भी इजाफा देखने को मिल सकता है।