भारत के एंड्रॉयड यूजर्स के लिए ऐप में खास बदलाव करने जा रहा Twitter, जानिए क्या बदलेगा

|

Published: 03 Mar 2021, 09:44 PM IST

  • कुछ यूजर्स के लिए अर्ली प्रीव्यू के रूप में ट्विटर ने उपलब्ध कराया यह फीचर।
  • Twitter कुछ अन्य नए फीचर्स पर भी काम कर रहा है।

ios पर लोगों के एक छोटे समूह के साथ अपने ऑडियो चैट फीचर स्पेसेज के पहले परीक्षण के बाद, Twitter ने कहा कि अब वह भारत में Android यूजर्स के लिए परीक्षण का विस्तार कर रहा है, ताकि उन्हें शामिल होने, सुनने और लाइव बोलने के साथ ही होस्ट-मॉडरेट ऑडियो बातचीत का मौका दिया जा सके। इस समय यह सुविधा कुछ चुनिंदा एंड्रॉयड यूजर्स के लिए प्रारंभिक पूर्वावलोकन (अर्ली प्रीव्यू) के रूप में उपलब्ध है, जो देश में ऐप के बीटा प्रोग्राम का हिस्सा हैं।

स्पेस बना सकते हैं यूजर्स
सुविधा में उपयोगकर्ता एक ‘स्पेस’ बना सकते हैं, जिससे उनके फॉलोअर्स बातचीत में भाग लेने के लिए शामिल हो सकते हैं। ट्विटर पर कोई भी बातचीत सुन सकता है, हालांकि केवल मेजबान ही नियंत्रित कर सकता है कि इसमें कौन बोल सकता है। ट्विटर ने कहा कि वह सभी को जल्द ही एंड्रॉयड और आईओएस दोनों पर स्पेस बनाने और होस्ट करने की क्षमता देने के लिए काम कर रहा है।

दूसरे फीचर्स भी डेवलप कर रहा
यह कदम ऐसे समय में आया है, जब केवल-आमंत्रित, ऑडियो-चैट एप Clubhouse सोशल मीडिया उपयोगकर्ताओं के बीच तेजी से लोकप्रियता हासिल कर रहा है। दिसंबर, 2020 में स्पेसेज के साथ बातचीत को जीवंत करने के लिए ट्विटर ने सबसे पहले नए तरीके का परीक्षण शुरू किया था।
स्पेसेस के लॉन्च के अलावा, ट्विटर ने कहा कि वह परीक्षण के लिए दूसरे फीचर्स को भी डेवलप कर रहा है।

यह है ट्विटर की योजना
नए आगामी फीचर्स में हाथ के इशारों के समान प्रतिक्रियाएं, लाइव ट्रांसक्रिप्शन, रिपोर्टिग और ब्लॉक करना व स्पेस में ट्वीट्स साझा करने की क्षमता शामिल है। ट्विटर इस साल प्लेटफॉर्म पर ऑडियो और वीडियो में ऑटोमैटिक कैप्शन जोड़ने की योजना बना रहा है, एक ऐसी सुविधा जो दिव्यांग लोगों को सर्विस को बहुत सार्थक तरीके से एक्सेस करने में मदद करेगी। हालांकि, अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वॉयस ट्वीट में ट्रांसक्रिप्शन उपलब्ध हो पाएगा या नहीं।