Exclusive: राजस्थान के 17 वर्षीय छात्र ने बनाया देसी मैसेजिंग ऐप Whatsin, दिए कमाल के प्राइवेसी फीचर्स

|

Published: 27 Feb 2021, 10:24 AM IST

  • टोंक जिले के 17 वर्षीय छात्र जतिन वर्मा ने WhatsApp की तरह एक मैसेजिंग ऐप बनाया है।
  • इस देसी मैसेजिंग ऐप में कंप्यूटर साइंस के छात्र जतिन ने प्राइवेसी फीचर्स पर विशेष ध्यान दिया है।

भारत में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। अगर मौका मिले तो हमारे देश की युवा प्रतिभाएं किसी से कम नहीं हैं। इसी वजह से इन दिनों स्वदेशी ऐप्स काफी पॉपुलर हो रही हैं। राजस्थान के टोंक जिले के एक 17 वर्षीय छात्र ने भी ऐसा ही कमाल कर दिखाया है। टोंक जिले के 17 वर्षीय छात्र जतिन वर्मा ने WhatsApp की तरह एक मैसेजिंग ऐप बनाया है। इस मैसेजिंग ऐप का नाम Whatsin रखा है। इस देसी मैसेजिंग ऐप में कंप्यूटर साइंस के छात्र जतिन ने प्राइवेसी फीचर्स पर विशेष ध्यान दिया है। जतिन का कहना है कि मैसेजिंग ऐप में यूजर्स के डेटा की सिक्योरिटी जरूरी है और इसी वजह से उसने अपने मैसेजिंग ऐप में प्राइवेसी फीचर्स पर ज्यादा फोकस किया है। जानते हैं इस मैसेजिंग ऐप और इसके प्राइवेसी फीचर्स के बारे में।

यूजर्स की लोकेशन नहीं होगी ट्रेस
जतिन ने पत्रिका को बताया कि इसमें प्रोक्सी वीपीएन का फीचर दिया गया है। यह Whatsin ऐप यूजर्स का आईपी एड्रेस और उनका लोकेशन ट्रेस नहीं करती। इससे यूजर्स की प्राइवेसी बनी रहती है और उन्हें ट्रेस करना मुश्किल हो जाता है।

डेटा बेस एनक्रिप्शन
इसमें यूजर्स की डेटा सिक्योरिटी के लिए डेटा बेस एनक्रिप्शन की सुविधा दी गई है। जतिन का कहना है कि इसमें यूजर्स का डेटा पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। कोई अन्य व्यक्ति उसे एक्सेस नहीं कर सकता। साथ ही इसमें मैसेज भी एंड टु एंड एनक्रिप्टेड हैं। मैसेज भेजने वाले और प्राप्त करने वाले के अलावा कोई अन्य यूजर और खुद ऐप डेवलेपर्स भी उसे एक्सेस नहीं कर सकते।

ऐप कलेक्ट करता है ये जानकारियां
जतिन ने पत्रिका को बताया कि उनका ऐप यूजर का नाम, प्रोफाइल फोटो और फोन नंबर जैसी जानकारियां कलेक्ट करता है। इसके अलावा यह ऐप यूजर की कोई अन्य जानकारी कलेक्ट नहीं करता है। साथ ही उसने बताया कि फिलहाल ऐप में अपडेट पर काम चल रहा है। अब इसमें स्टेटस अपडेट का फीचर और कुछ अन्य फीचर्स भी जोड़े जाएंगे।

30 दिन बाद ऑटो डिलीट हो जाता है डेटा
इसके प्राइवेसी फीचर्स में एक और खास फीचर है। इसमें यूजर्स द्वारा किए मैसेज और अन्य कंटेंट 30 दिन बाद अपने आप डिलीट हो जाते हैं। अगर यूजर चाहे तो उस डेटा का बैकअप ले सकता है। बैकअप नहीं लेने की स्थिति में वह डेटा 30 दिन बाद डिलीट हो जाता है। यूजर्स के डेटा को डेवलेपर्स भी एक्सेस नहीं कर सकते।

स्क्रीन सिक्योरिटी और पिन एनक्रिप्शन
इसमें स्क्रीन सिक्योरिटी का फीचर भी दिया गया है। इस फीचर के तहत अगर कोई दूसरा यूजर चाहे तो भी स्क्रीन शॉट नहीं ले सकता। यह फीचर स्क्रीन शॉट लेने से उसे रोकता है। इसके साथ ही इस ऐप में पिन एनक्रिप्शन का भी फीचर दिया गया है। इस फीचर के तहत अगर आपका Whatsin अकाउंट किसी अन्य व्यक्ति के हाथ लग जाए तो भी वह उसे एक्सेस नहीं कर पाएगा। उसे अकाउंट एक्सेस करने के लिए पिन डालना होगा, जो यूजर ने सेट किया है। गलत पिन डालते ही वह लॉगआउट हो जाएगा।

गूगल प्लेस्टोर पर उपलब्ध
जतिन ने Whatsin ऐप को अप्रेल 2020 को लॉन्च किया था और यह गूगल प्लेस्टोर लिस्ट भी हो गया था। जतिन का कहना है कि बाद में बिना कोई कारण बताए इस ऐप को गूगल प्लेस्टोर से हटा दिया गया। अब यह Whatsin ऐप फिर से गूगल प्लेस्टोर पर लिस्ट हो गया है। यह ऐप 72 भाषाओं का सपोर्ट करता है।

कम इंटरनेट स्पीड में भी क्रिस्टल क्लियर वीडियो
जतिन का कहना है WhatsApp में इंटरनेट स्पीड कम होने पर वीडियो कॉल के दौरान वीडियो ब्लर हो जाता है, लेकिन Whatsin मे ऐसा नहीं है। 2जी की स्पीड आने पर भी Whatsin में क्रिस्टल क्लियर वीडियो कॉलिंग की जा सकती है।