जानिए कितना सुरक्षित है Sandes ऐप में यूजर्स का डेटा, ये जानकारियां करता है कलेक्ट

|

Published: 23 Feb 2021, 03:50 PM IST

  • केन्द्र सरकार का इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप Sandes इन दिनों सुर्खियों में है।
  • Sandes app को WhatsApp का विकल्प बताया जा रहा है।

इन दिनों स्वदेशी ऐप्स काफी पॉपुलर हो रहे हैं। पहले Twitter का भारतीय विकल्प Koo App आया और अब केन्द्र सरकार का इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप Sandes इन दिनों सुर्खियों में है। बता दें कि फिलहाल इस सरकारी मैसेजिंग ऐप की टेस्टिंग चल रही है। Sandes app को WhatsApp का विकल्प बताया जा रहा है। हालांकि केंद्र सरकार इस ऐप को कब लॉन्च करेगी, इस बारे में अभी कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। लेकिन यह ऐप लाइव हो गई है और उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही इसे लॉन्च किया जा सकता है।

कई फीचर्स WhatsApp जैसे
बता दें कि Sandes app के कई फीचर्स पॉपुलर मैसेजिंग ऐप WhatsApp जैसे ही हैं। Sandes ऐप के जरिए यूजर्स टेक्स्ट मैसेज भेज सकते हैं। इसके साथ ही व्हाट्सएप की तरह इस ऐप के जरिए वॉयस और वीडियो कॉल भी कर सकते हैं। इसके साथ ही यूजर्स ग्रुप भी क्रिएट कर सकते हैं। Sandes के ये फीचर्स WhatsApp की तरह ही हैं। हालांकि इस ऐप में कई ऐसे फीचर्स भी हैं, जो व्हाट्सएप में भी नहीं हैं। Android यूजर्स Sandes ऐप को APK Link के जरिए डाउनलोड कर सकते हैं। वहीं iOS या आईफोन यूजर्स सीधे App Store से डाउनलोड कर सकते हैं।

कितना सुरक्षित है Sandes app में डेटा
इन दिनों प्राइवेसी को लेकर काफी चर्चा हो रही है। ऐसे में यूजर्स को यह जानना भी जरूरी है कि Sandes ऐप में उनका डेटा कितना सुरक्षित है। Apple App स्टोर में डेवलपर्स का कहना है कि Sandes ऐप यूजर्स के कॉन्टेक्ट इंफॉर्मेशन, नाम, कंट्री कोड, जेंडर, प्रोफाइल फोटो, डेट ऑफ बर्थ जैसे जानकारियां कलेक्ट करता है। हालांकि डेवलपर्स का कहना है कि यह डेटा भारत सरकार के सर्वर में स्टोर रहता है। इस ऐप के सभी मैसेज एंड टू एंड इन्क्रिप्शन से प्रोटेक्टेड बताए जा रहे हैं।

डेटा नहीं किया जाएगा शेयर
Sandes ऐप की प्राइवेसी पॉलिसी में कहा गया है कि यूजर्स का डेटा किसी किसी भी थर्ड पार्टी के साथ न शेयर किया जाएगा और न ही बेचा जाएगा। हालांकि यहां यह जरूर कहा गया है कि इसे सरकारी एजेंसियों या कोर्ट के साथ शेयर किया जाएगा। बता दें कि व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी का विरोध डेटा शेयर किए जाने की बात पर ही हो रहा है। बताया जा रहा था कि व्हाट्सएप यूजर्स का डेटा फेसबुक और उसके स्वामित्व वाली कंपनियों के साथ शेयर किया जाएगा। हालांकि बाद में व्हाट्सएप ने इस पर सफाई भी दी थी।

Sandes ऐप के सिक्योरिटी फीचर्स
वहीं Sandes ऐप के सिक्योरिटी फीचर्स की बात करें तो इसमें फिलहाल फिंगरप्रिंट लॉक या स्क्रीन लॉक फीचर नहीं दिया गया है। हालांकि इसमें यूजर्स को दूसरे प्राइवेसी फीचर्स जैसे इनकॉग्निटो की-बोर्ड मोड, स्क्रीन सिक्योरिटी जैसे फीचर्स मिलते हैं। इसके साथ ही Signal App की तरह Sandes में यह पता नहीं चलता है कि भेजा गया मैसेज कब पढ़ा गया है।