कोरोना: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन हुए क्वारंटीन, मिलने वाले करीबियों में संक्रमण की पुष्टि

|

Published: 14 Sep 2021, 08:50 PM IST

बीते दिनों पुतिन से मिलने वाले कुछ करीबियों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। इसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट करने का फैसला किया है।

मॉस्को। तीसरी लहर की आशंका के बीच कोरोना संक्रमण दोबारा से दस्तक दे रहा है। इस बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन संक्रमण की आशंका से आइसोलेट हो गए हैं

जानकारी के अनुसार बीते दिनों पुतिन से मिलने वाले कुछ करीबियों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। इसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट करने का फैसला किया है।

ये भी पढ़ें: तालिबान को समर्थन देने के बावजूद खुश नहीं है सऊदी अरब, इन मुस्लिम देशों को अफगानिस्तान में देखना भी नहीं चाहता

कोरोना से अभी भी खतरा बरकरार

गौरतलब है कि पुतिन को करोना संक्रमण से बचाने के लिए विशेष इंतजाम किए गए हैं। विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम पुतिन का ध्यान रखने के लिए लगाई गई है। वहीं उनसे मिलने वालों को क्वारंटीन कर दिया गया है। रूस के राष्ट्रपति को क्वारंटीन किया जाना ये संकेत देता है कि कोरोना से अभी भी लोगों के लिए खतरा बना हुआ है।

बताया जा रहा है कि पुतिन से मिलने वाले को सबसे पहले क्वारंटीन किया जाता है। निर्धारित दिन तक क्वारंटीन में रहने के बाद ही उन्हें मिलने की इजाजत दी जाती है। इसके बावजूद रूस के राष्ट्रपति संक्रमितों से दूरी नहीं बन सके। गौरतलब है कि पुतिन को रूसी कोरोना वैक्सीन स्पुतनिक वी का टीका लगाया गया है। उन्होंने अप्रैल में अपनी दूसरी खुराक ली थी।

सैन्य अभ्यास में हिस्सा लिया

रूसी राष्ट्रपति ने सोमवार को कई सार्वजनिक कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। उन्होंने रूसी पैरालिंपियनों के साथ मुलाकात की। बेलारूस के साथ समन्वय में आयोजित सैन्य अभ्यास में हिस्सा लिया। इसके साथ सीरिया के राष्ट्रपति बशर असद से भी मिले। हालांकि क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव का कहना है कि पुतिन ने वायरस के लिए नकारात्मक परीक्षण किया, जिसमें वे कोरोना निगेटिव पाए गए हैं और पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं।