कोरोना महामारी के बीच इस संदिग्‍ध बीमारी का कहर, नाइजीरिया में 50 लोगों की मौत से मचा हड़कंप

|

Updated: 07 Apr 2021, 10:34 PM IST

नाइजीरिया में इस साल इस संदिग्ध हैजा के प्रकोप की वजह से कम से कम 50 लोगों की मौत हो चुकी है। नाइजीरिया सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के मुताबिक, देश के आठ राज्यों में संदिग्ध हैजा के प्रकोप की सूचना मिली है।

अबुजा। पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना महामारी के प्रकोप से जूझ रही है और अब तक लाखों लोगों की जान जा चुकी है। जबकि करोड़ों लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस महामारी से निपटने के लिए टीकाकरण अभियान भी चलाया जा रहा है। वहीं, अब नाइजीरिया में एक संदिग्ध बीमारी ने कहर बरपा रखा है। इस बीमारी से नाइजीरिया में अब तक 50 लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे में दुनियाभर में इसको लेकर खौफ बना हुआ है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, नाइजीरिया में इस साल इस संदिग्ध हैजा के प्रकोप की वजह से कम से कम 50 लोगों की मौत हो चुकी है। नाइजीरिया सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल (Nigeria Center for Disease Control, NCDC) के मुताबिक, देश के आठ राज्यों में संदिग्ध हैजा के प्रकोप की सूचना मिली है।

यह भी पढ़ें :- रहस्यमयी बीमारी की चपेट में नाइजीरिया, 18 की मौत

राजधानी अबुजा में NCDC के प्रमुख चिकवे इचेजवाजू ने मीडिया से बात करते हुए बताया है कि इस साल 28 मार्च तक कुल 1,746 मामले सामने आए हैं, जिनमें 50 लोगों की मौत हुई है। यानी कि अब सामने आए कुल मामलों का 2.9 फीसद लोगों की मौत इस बीमारी के कारण हुई है।

कोरोना संक्रमण के बीच इस संदिग्ध बीमारी के फैलने को लेकर एनसीडीसी स्थिति पर बारीकी से नजर बनाए हुए है। जानकारी के अनुसार, नाइजीरिया के नसरवा, सोकोतो, कोगी, बेलेसा, गोम्बे, जम्फारा, डेल्टा और बेन्यू राज्यों ने अपने-अपने यहां इस संदिग्ध बीमारी के मरीज होने की सूचना दी है।

इस वजह से फैलती है ये बीमारी

जानकारी के मुताबिक, नाइजीरिया में हर साल इस बीमारी से दर्जनों लोगों की मौत होती है। यह बीमारी अमूमन बरसात के मौसम में होती है। ज्यादा गंदगी, भीड़भाड़, स्वच्छ भोजन व पानी की कमी वाले इलाकों में यह बीमारी अधिक होती है। साथ ही खुले में शौच करने वाली जगहों पर भी तेजी के साथ यह बीमारी फैलती है।

यह भी पढ़ें :- इस गांव में फैल गया हैजा, घर-घर में लोग पड़ रहे बीमारी, एक की हो गई मौत, डायरिया से बचें करें उपाय

नाइजीरिया में इससे पहले 2018 में NCDC ने देश भर में 16 हजार से अधिक हैजा के मामलों की पुष्टि की थी। इसके बाद से सरकार लगातार इसके उन्‍मूलन को लेकर प्रयास कर रही है। 20 नवंबर 2019 को नाइजीरिया के राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ( Nigerian President Muhammadu Buhari ) ने संयुक्त राष्ट्र सतत विकास लक्ष्यों के लिए साल 2025 तक खुले में शौच को खत्म करने के लिए एक कार्यकारी आदेश को मंजूरी दी थी।

इस दस्तावेज पर हस्ताक्षर करते समय बुहारी ने नाइजीरिया में पानी की आपूर्ति, स्वच्छता और स्वच्छ क्षेत्र पर भी आपातकाल की स्थिति की घोषणा की थी। बता दें कि हैजा की वजह से दुनियाभर में हर साल सैंकड़ों लोगों की मौत होती है। इस बीमारी के उन्मूलन को लेकर विश्व स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। अधिकतर गरीब और मध्यम वर्ग के देशों में इस बीमारी के अधिक मामले देखने को मिलते हैं।