Sudan Violence: सूडान के दार्फुर में 500 आतंकियों ने हमला बोला, 60 लोगों की मौत

|

Published: 27 Jul 2020, 02:24 PM IST

Highlights

  • सूडान के पीएम अब्दल्ला हामडोक (Abdalla Hamdok) ने यहां पर सुरक्षाबलों को भेजने का निर्देश दिया।
  • हिंसक घटना में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। बाजार में दुकानों को लूट लिया गया।

सूडान। संयुक्त राष्ट्र (UN) की रिपोर्ट के अनुसार रविवार को सूडान के दार्फुर में हुई हिंसा में 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई। पश्चिम दार्फुर इलाके में स्थित गांव मास्टेरी (Masteri) में करीब 500 आतंकियों ने शनिवार दोपहर को धावा बोल दिया। इस हमले में में 60 से अधिक लोगों की मौत हो गई। वहीं कई लोग जख्मी हो गए हैं। सूडान के पीएम अब्दल्ला हामडोक (Abdalla Hamdok) ने यहां पर सुरक्षाबलों को भेजने का निर्देश दिया। यहां पर आम लोग इस मुठभेड़ से काफी डरे हुए हैं।

सूडान में मानवीय समिति से संबंधित यूएन कार्यालय ( UN Office) के अनुसार 500 आतंकियों ने शनिवार को पश्चिमी दार्फुर प्रांत की राजधानी जेनेना से 48 किलोमीटर दक्षिण में मौजूद मास्टेरी गांव पर हमला बोल दिया था। हिंसक घटना में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। बाजार में दुकानों को लूट लिया गया। सरकारी एजेंसी के अनुसार ये झड़पें काफी देर तक चलती रही। ये रात तक होती ही रही। स्थानीय अधिकारियों ने झड़पों को रोकने के लिए सैन्य बल की मांग की।

गौरतलब है कि एक दिन पहले सूडान में अज्ञात बंदूकधारी हमलावरों ने 20 लोगों की हत्या को अंजाम दिया था। इस दौरान 22 लोगों को घायल हो गए थे। इसी तरह 13 जुलाई को उत्तरी दारफुर में आतंकियों ने एक घटना को अंजाम दिया। इसके बाद से पूरे राज्य में अलर्ट की घोषणा कर दी थी।

सूडान में वर्ष 2019 में तख्तापलट हुआ था। इसके बाद आई सरकार दशकों से चल रहे विद्रोह को खत्म करने के लिए संघर्ष कर रही है। यहां ज्यादातर लोग विस्थापित हैं। यहां पर लोग शरणार्थी शिविरों में रहते हैं। लंबे समय से नेता रहे उमर अल-बशीर को 2019 में बड़े विद्रोह के बाद सत्ता से मजबूरन हटना पड़ा था। वह मानवता के खिलाफ अपराधों के अंतरराष्ट्रीय आरोपों का लगातार सामना कर रहे हैं।