जाकिर नाइक के विवाद बोल, कहा- पैगंबर के खिलाफ बोलने वाले भारतीयों को जेल में डालें

|

Updated: 23 Oct 2020, 10:12 PM IST

HIGHLIGHTS

  • भगोड़े इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक ( Islamic Preacher Zakir Naik ) ने कहा है कि पैगंबर मोहम्मद की आलोचना करने वाले भारतीयों को जेल में डाला जाए।
  • उसने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आरएसएस से जुड़े लोग सबसे अधिक पैगंबर की अलोचना करते हैं।

नई दिल्ली। नफरत फैलाने और विवादित तकरीर करने वाले भगोड़े इस्लामिक धर्मगुरु जाकिर नाइक ( Zakir Naik Controversial Statement ) ने एक बार फिर से भड़काऊ और जहरीला बयान दिया है। 53 वर्षीय जाकिर नाइक ने कहा है कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ बोलने और उनकी आलोचना करने वाले भारतीयों को जेल में डाला जाए।

जाकिर नाइक ने मुस्लिम देशों से अपील की है कि पैगंबर मोहम्मद ( Prophet Mohammad ) की आलोचना करने वाले भारतीयों को उनके देश में आने पर उन्हें सलाखों के पीछे भेजा जाए। उसने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और आरएसएस से जुड़े लोग सबसे अधिक पैगंबर की अलोचना करते हैं।

ब्रिटेन: जाकिर नाइक के पीस टीवी पर नफरत फैलाने वाले भाषण दिखाने का आरोप, 2.75 करोड़ रुपए का लगा जुर्माना

जाकिर नाइक ने सऊदी अरब, इंडोनेशिया समेत कई मुस्लिम देशों से आह्वान किया है कि ऐसे भारतीय लोगों की एक डेटाबेस बनाया जाए, जो पैगंबर मोहम्मद की आलोचना करते हैं और जब वे उस देश की यात्रा पर कभी आएं तो फौरन गिरफ्तार कर जेल भेज दिया जाए। जाकिर नाइक ने कहा कि इस्‍लामिक देश गैर-मुस्लिम भारतीय के नकारात्‍मक टिप्‍पणियों और गालियों का एक डेटाबेस बनाएं, उसे कंप्यूटर में सुरक्षित रखा जाए और फिर वैसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

मलेशिया में शरण लेकर रह रहा है जाकिर नाइक

जाकिर नाइक ने विवादित बयान देते हुए कहा कि तमाम ऐसे मुस्लिम देश जहां गैर मुस्लिम भारतीय आए, चाहे वह कुवैत हो या सऊदी अरब या इंडोनेशिया हो, उनकी जांच की जाए और पता लगाया जाए कि कहीं उन्होंने पैगंबर का अपमान तो नहीं किया है। यदि उन्होंने ऐसा किया है तो तत्काल उनके खिलाफ केस दर्ज किया जाए और जेल में डाला जाए।

मलेशिया: PM महाथिर मोहम्मद ने जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण से फिर किया इनकार, कहा- भारत में नहीं मिलेगा न्याय

उन्होंने कहा कि तमाम मुस्लिम देश सार्वजनिक तौर पर ये ऐलान कर दें कि हमारे पास एक डेटाबेस है, लेकिन नामों का खुलासा न करें और जैसे ही वे उनके देश में आते हैं उन्हें तत्काल गिरफ्तार किया जाए और जेल भेज दिया जाए।

आपको बता दें कि जाकिर नाइक मलेशिया में शरण लेकर रह रहा है। जाकिर नाइक के खिलाफ सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने और गैर-कानूनी गतिविधियों में संलिप्त होने का आरोप है। भारत में कार्रवाई होने के बाद से वह फरार है।