इंडोनेशिया में कोरोना का मासूमों पर कहर, एक सप्ताह में 100 से ज्यादा बच्चों की मौत

|

Published: 26 Jul 2021, 01:38 PM IST

कई देशों में कोरोना की तीसरी लहर ने दस्तक दे दी है। इंडोनेशिया में यह महामारी मासूमों पर कहर ढा रही है। वहां पर कोरोना से सैंकड़ों बच्चों को मौत की नींद सुला दी है।

नई दिल्ली। महामारी कोरोना वायरस की दूसरी लहर अभी खत्म नहीं हुई है। कोरोना की तीसरी लहर काल बनकर सामने आ रही है। विशेषज्ञों ने कहा है कि तीसरे लहर का सबसे ज्यादा असर बच्चों पर देखने को मिलेगा। एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोरोना को लेकर सुरक्षात्मक रवैया अपनाने की जरूरत है। कई देशों में कोरोना की तीसरी लहर ने दस्तक दे दी है। इंडोनेशिया में यह महामारी मासूमों पर कहर ढा रही है। वहां पर कोरोना से सैंकड़ों बच्चों को मौत की नींद सुला दी है। एक रिपोर्ट के अनुसार, मरने वाले बच्चों में ज्यादादर की उम्र 5 साल से कम बताई जा रही है। यहां केवल एक सप्ताह के अंदर ही 100 से ज्यादा बच्चों की मौत हो गई है।

बच्चों पर कहर बरपा रहा है कोरोना
इंडोनेशिया में महामारी कोरोना अपनी चरम सीमा पर है। पिछले कई दिनों से यहां महामारी बच्चों पर अपना कहर बरपा रहा है। एक रिपोट के अनुसार, इंडोनेशिया में इस महीने एक सप्ताह में 100 से ज्यादा मौतें हुईं। दो दिन पहले करीब 50 हजार नए केस सामने आए है और 1 हजार 566 लोगों की मौत हो गई। इंडोनेशिया में बाल रोग विशेषज्ञों की रिपोर्ट के मुताबिक, देश के कुल मामलों में 12.5 प्रतिशत मामले बच्चों के हैं। ये पिछले महीने की तुलना में ज्यादा है। 12 जुलाई के सप्ताह के दौरान कोरोना से 150 से अधिक बच्चों की मौत हो गई। हैरानी की बात यह है कि इनमें से आधे बच्चे 5 साल से कम उम्र के थे।

यह भी पढ़ेंः Video: फिर निकला कोरोना का डर, बाजारों से लेकर मंदिरों तक नियमों को ताक पर रख घूम रहे लोग

 

अब 800 से ज्यादा बच्चों की मौत
एक रिपोर्ट के अनुसार, इंडोनेशिया में अब तक कोरोना से 18 साल से कम उम्र के 800 से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है। इनमें से ज्यादातर मौतें पिछले महीने हुई हैं। अस्पताल में इलाज के लिए जगह नहीं मिल पा रही है। कोरोना पॉजिटिव बच्चों के लिए कई जगह अगल अस्पताल बनाए गए। इसके साथ ही दो तिहाई कोरोना संक्रमित लोग पर क्वारंटाइन में हैं। बच्चों को संक्रमित होने से बचाने के लिए सरकार के सामने बढ़ी चुनौती है।

 

यह भी पढ़ेंः बच्चों के वैक्सीनेशन की तैयारी, AIIMS प्रमुख डॉ रणदीप गुलेरिया ने बताया कब तक आ सकती है वैक्सीन

इंडोनेशिया में कोरोना अपने चरम सीमा पर
इंडोनेशिया में कोरोना के नए मामलों में जबरदस्त इफाजा हो रहा है। दुनिया में सबसे ज्यादा 1415 मौतें भी इंडोनेशिया में ही दर्ज की गईं। पिछले 24 घंटों के दौरान 45,416 नए के सामने आए हैं इस देश में अब तक 31.27 लाख लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं। इतना ही 82,013 लोगों की मौत हो चुकी है, जो दुनियाभर में सर्वाधिक हैं। कुल संक्रमितों के लिहाज से इंडोनेशिया अभी कोरोना प्रभावित शीर्ष देशों के मुकाबले अभी बहुत पीछे है।