इंडोनेशिया विमान दुर्घटना मामले में इंटरपोल करेगा सरकार की मदद, जानिए क्यों?

|

Updated: 11 Jan 2021, 11:19 AM IST

  • इंटरपोल इंडोनेशिया के दुर्घटनाग्रस्त यात्री विमान के पीडि़तों की पहचान में इंडोनेशिया की मदद करने को तैयार
  • इंडोनेशियाई अधिकारियों का दावा, दुर्घटनाग्रस्त विमान का ब्लैक बॉक्स हुआ लोकेट, ब्लैक बॉक्स को खोजने की कोशिश जारी

जकार्ता। अंतरराष्ट्रीय अपराध पुलिस संगठन यानी इंटरपोल के महासचिव जुर्गन स्टॉक ने कहा कि इंटरपोल इंडोनेशिया के दुर्घटनाग्रस्त यात्री विमान के पीडि़तों की पहचान में इंडोनेशियाई अधिकारियों की मदद करने के लिए तैयार है। इससे पहले इंडोनेशिया के सैन्य प्रमुख हादी तजाहजंतो ने घोषणा की है कि संयुक्त खोज और बचाव दल ने दुर्घटनाग्रस्त होकर जावा सागर में गिरे श्रीविजय एयर प्लेन के ब्लैक बॉक्स की लोकेशन का पता लगा लिया है।

इंटरपोल करेगा मदद
इंटरपॉल के महासचिव स्टॉक ने ट्वीट कर कहा कि दुर्घटना में मृतकों के परिवारों के प्रति हमारी संवेदनाएं हैं। इंटरपोल मुख्यालय ने इंडोनेशिया को दुर्घटना के शिकार लोगों की शिनाख्त करने में मदद की पेशकश की है। इंडोनेशिया का बोइंग 737-500 श्रृंखला का विमान शनिवार को जकार्ता के सोकार्नो-हट्टा हवाई अड्डे से उड़ान भरने के चार मिनट बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। विमान में 56 यात्री और छह क्रू सदस्य सहित कुल 62 लोग सवार थे।

अधिकारियों का दावा, विमान का ब्लैक बॉक्स लोकेट हुआ
इंडोनेशिया के सैन्य प्रमुख हादी तजाहजंतो ने घोषणा की है कि संयुक्त खोज और बचाव दल ने दुर्घटनाग्रस्त होकर जावा सागर में गिरे श्रीविजय एयर प्लेन के ब्लैक बॉक्स की लोकेशन का पता लगा लिया है। विदेशी मीडिया के अनुसार तजाहजंतो ने कहा बचाव दल उस लोकेशन का अनुसरण करते हुए ब्लैक बॉक्स को खोजने की कोशिश कर रहे हैं। विमान का मलबा 23 मीटर की गहराई में है। उन्होंने कहा कि इससे यह साबित होता है कि ब्लैक बॉक्स से निकले 2 सिग्नलों की लगातार मॉनीटरिंग की जा सकती है। हमने उन्हें चिह्न्ति किया है। विमान का उड़ान भरने के 4 मिनट बाद ही संपर्क टूट गया था। रविवार तक 7 बैग भरकर मानव शरीरों के अंग और 3 बैग मलबा बरामद हो चुका था।