नागरिकता संशोधन बिल: अमरीकी आयोग ने जताई चिंता, अमित शाह पर पाबंदी की मांग

|

Updated: 10 Dec 2019, 02:11 PM IST

  • नागरिकता संशोधन बिल ( Citizenship bill ) भारत के निचले सदन में पास
  • अमरीकी आयोग ने नगारिकता बिल पर जताई चिंता
  • अमरीकी सरकार से अमित शाह पर पाबंदी लगाने की कही बात

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन विधेयक ( Citizenship bill ) सोमवार को लोकसभा में पास होग गया। अब इसे राज्यसभा में पास करना बाकी। बिल के लोकसभा में पास होने के साथ ही इसका जमकर विरोध किया जा रहा है। इस बीच ख़बर है कि अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता पर अमरीकी आयोग (यूएससीआईआरएफ़) ने भारतीय संसद के निचले सदन लोकसभा में इस बिल के पास होने पर गहरी चिंता जताई है।

यह भी पढ़ें-अमित शाह ने अधीर रंजन के सवाल का दिया ये जवाब, कहा- मैं, कांग्रेस की हालत ठीक नहीं कर सकता

इस बारे में एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए अमरीकी आयोग ने बड़ा बयान दिया है। आयोग ने कहा कि अगर यह विधेयक राज्यसभा से भी पास हो जाता है तो ड्रंप सरकार को भारती गृह मंत्री अमित शाह के अमरीका आने पर प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचना चाहिए। प्रेस रिलीज में भारत के अन्य प्रमुख नेताओं पर भी प्रतिबंध लगाने के बारे में सोचने को कहा गया है।

अमरीकी आयोग ने जाहिर की चिंता

अमरीकी आयोग ने कहा कि यह बिल भारत के सेक्युलर इतिहास और भारतीय संविधान के ख़िलाफ़ है। आयोग का कहना है कि इस बिल के अलावा असम में एनआरसी की प्रक्रिया चल ही रही है। भारती गृह मंत्री अमित शाह इस बिल को पूरे भारत में लागू करना चाहते हैं। आयोग ने डर जताते हुए कहा कि अगर यह बिल पास हो जाता है तो भारत में भारतीय नागरिकता के लिए धार्मिक टेस्ट पास करना होगा। इससे लाखों मुसलमानों की नागरिकता जा सकती है।

लोकसभा में पास हुआ बिल

बता दें कि सोमवार को विपक्ष के भारी विरोध के बीच लोकसभा में नारिकता संशोधन विधेयक पास हो गया। अब इस बिल को राज्यसभा से पास कराना बाकी है। राज्यसभा में इस बिल को मंजूरी मिल जाने के बाद यह अस्तित्व में आ जाएगा।

क्या है इस बिल में

नागरिकता संशोधन विधेयक में बांग्लादेश, अफ़गानिस्तान और पाकिस्तान के छह अल्पसंख्यक समुदायों हिंदू, बौद्ध, जैन, पारसी, ईसाई और सिख से ताल्लुक़ रखने वाले लोगों को भारतीय नागरिकता देने का प्रवधान किया गया है।

पीएम मोदी ने जताई खुशी

नागरिकता संसोधन विधेयक के लोकसभा में पास होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुशी जाहिर करते हुए अमित शाह की तारिफ की। पीएम ने कहा कि ये भारत की सदियों पुरानी परम्परा और मानवीय मूल्यों में विश्वास के अनुरूप है।