ED का बड़ा खुलासा, विदेशों से जाकिर नाइक के खाते में 49 करोड़ रुपए हुए ट्रांसफर

|

Updated: 09 May 2019, 08:05 AM IST

  • प्रवर्तन निदेशालय ने जाकिर नाइक के खिलाफ दायर किया आरोप पत्र।
  • मनी लॉंड्रिंग के मामले में आरोपी है जाकिर नाइक।
  • भारत से फरार हो कर अभी मलेशिया में शरण लेकर रहता है जाकिर नाइक।

नई दिल्ली। विवादास्पद मुस्लिम धर्म उपदेशक जाकिर नाइक ( Zakir Naik ) को लेकर अब एक बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल मनी लॉंड्रिंग ( money laundering ) के आरोप में फंसे जाकिर नाइक के पास आय का कोई मुख्य स्त्रोत नहीं है, इसके बावजूद भी भारत में उसके बैंक खातों से करोड़ों रुपए का लेनदेन हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय ( Enforcement Directorate ) ने विशेष अदालत में नाइक के खिलाफ दायर आरोप पत्र में दावा किया है कि नाइक के बैंक खातों में 49 करोड़ रुपए ट्रांसफर हुए हैं। ईडी की ओर से मनी लॉन्ड्रिंग कानून रोकथाम कानून ( PMLA ) के तहत दाखिल आरोप पत्र पर जस्टिस एमएस आजमी ने बुधवार को संज्ञान लिया है। बता दें कि जाकिर नाइक भारत की कार्रवाई से डरकर भाग गया है और मलेशिया में शरण लेकर रह रहा है।

कट्टरपंथ पर श्रीलंका सख्त, मुस्लिम धर्म उपदेशक जाकिर नाईक का चैनल 'Peace TV' बैन

2016 में नाइक के खिलाफ दर्ज हुआ था मामला

बता दें कि जांच एजेंसी की ओर से दाखिल आरोप पत्र में यह कहा गया है कि जाकिर नाइक के पास रोजगार या फिर कारोबार से आय के कोई भी स्त्रोत नहीं है। इसके बावजूद भी भारत में नाइक के बैंक खातों में 49.50 करोड़ रुपए ट्रांसफर हुए हैं। इसी सिलसिले में जांच एजेंसी ने अब तक दो लोगों आमिर गजदार और नजामुद्दीन साथक को गिरफ्तार भी किया है जो कि नाइक के सहयोगी हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( NIA ) ने 2016 में गैर-कानूनी गतिविधि रोकथाम कानून ( UAPA ) के तहत मामला दर्ज किया था। शुरुआती जांच में यह बात सामने आई थी कि बीते तीन सालों में जाकिर नाइक के बैंक खातों में तीन अलग-अलग देशों से 60 करोड़ रुपए आए हैं। ये सभी पैसे जाकिर नाइक के परिवार के सदस्यों से जुड़े बैंक खातों में जमा कराई गई थी। इसके बाद से जांच एजेंसियों ने नाइक पर शिकंजा कसने की तैयारी की। जबतक उसे गिरफ्तार किया जाता उससे पहले ही वह फरार हो गया और मलेशिया में शरण लेकर रह रहा है।

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.