Coronavirus: फिनलैंड में महामारी के बढ़ते मामलों को लेकर आपातकाल घोषित, WHO ने कहा- अभी खत्म नहीं हो रहा कोरोना

|

Updated: 02 Mar 2021, 09:22 PM IST

HIGHLIGHTS

  • Finland Corona Case: फिनलैंड में कोरोना के हालात फिर से बिगड़ने लगे हैं, ऐसे में सरकार ने आपातकाल की घोषणा की है।
  • फिनलैंड में आठ मार्च से तीन सप्ताह के लिए सभी रेस्टोरेंट बंद करने की घोषणा की गई है। साथ ही अन्य पाबंदियां भी लगाई जा रही हैं।

जेनेवा। कोरोना महामारी से पूरी दुनिया जूझ रही है और अब तक लाखों लोगों की जान जा चुकी है, वहीं करोड़ों लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि, कई देशों में कोरोना टीकाकरण अभियान की शुरूआत होने से इससे बचाव की उम्मीदें काफी बढ़ गई है। इस बीच कुछ देशों में कोरोना के नए स्ट्रेन सामने आने के बाद से चिंताएं भी बढ़ गई हैं।

कई देशों में कोरोना संक्रमण के मामलों में फिर से तेजी देखी जा रही है। लिहाजा, सरकार पहले की तरह ही फिर से सख्त कदम उठा रही है। इसी कड़ी में फिनलैंड में कोरोना महामारी के बढ़ते मामलों को देखते हुए आपातकाल की घोषणा की गई है। वहीं, ईरान में चौथी लहर की चेतावनी जारी की गई है। ईरान में बीते 24 घंटों में 100 से अधिक लोगों की मौत के बाद से ये चेतावनी जारी की गई है। जनवरी के बाद यह पहला मौका है जब ईरान में एक दिन में 100 से अधिक लोगों की मौत हुई है।

कोरोना से मरने वालों ने बताई अपनी अंतिम इच्छा, किसी ने मांगी शराब, तो किसी ने कही पश्चाताप की बात

बता दें कि फिनलैंड में कोरोना के हालात फिर से बिगड़ने लगे हैं, ऐसे में सरकार ने आपातकाल की घोषणा की है। देश में इमरजेंसी लगाने का निर्णय संसद में लिया गया है। इसके अलावा फिनलैंड में आठ मार्च से तीन सप्ताह के लिए सभी रेस्टोरेंट बंद करने की घोषणा की गई है। साथ ही अन्य पाबंदियां भी लगाई जा रही हैं।

मालूम हो कि ब्राजील में भी बढ़ते मरीजों और अस्पतालों में हालात खराब होने के कारण स्वास्थ्य अधिकारियों ने लॉकडाउन और कर्फ्यू लगाने के लिए कहा है। इटली में भी फिर से कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी देखी जा रही है।

अभी खत्म नहीं हो रहा कोरोना: WHO

बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना के प्रभाव को देकते हुए कहा है कि अभी इतनी जल्दी कोरना खत्म नहीं होने वाला है। यह कहना बहुत जल्दबाजी होगा कि 2021 कते अंत तक कोरोना महामारी का प्रकोप पूरी तरह से समाप्त हो जाएगा।

कोरोना संबंधित गाइडलाइंस का पालन नहीं करने पर बाम्बे हाईकोर्ट के जज सुनवाई के दौरान नाराज, सभी को कर दिया बाहर

हालांकि, WHO ने कहा है कि असरदार कोरोना वैक्सीन से इसके खतरे को कम किया जा सकता है। WHO के के हेल्थ इमरजेंसी प्रोग्राम के कार्यकारी निदेशक डॉ. माइकल रयान ने कहा कि यह राहत की बात है कि कारगर वैक्सीन के आने से अस्पताल जाने और मरने वाले लोगों की संख्या में कमी आएगी।

मालूम हो कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के वैक्सीन वितरण कार्यक्रम ‘कोवैक्स’ के तहत दुनिया के 142 देशों में दो करोड़ 37 लाख वैक्सीन के डोज वितरित किए गए हैं। WHO प्रमुख टेड्रोस अधोनम घेब्रेसस ने बताया कि कौवेक्स कार्यक्रम के तहत अंगोला, कंबोडिया, कांगो, नाइजीरिया और घाना में वैक्सीन का वितरण किया गया है।