चीनी नौसेना ने मिसाइलें दागकर किया शक्ति प्रदर्शन, ड्रैगन की चाल से दुनिया में खौफ

|

Published: 13 Apr 2020, 12:08 PM IST

  • China Conspiracy : चीनी नौसेना ने दक्षिणी समुद्री इलाके में गाइडेड मिसाइल से लैस यूलिन और सूचांग युद्धपोत से मिसाइलें दागी
  • इससे कुछ दिन पहले भी चीन ने एक अनजान जगह में युद्धाभ्यास किया था

नई दिल्ली। पूरी दुनिया इस वक्त जहां कोरोना (Coronavirus) के खौफ में जी रहा है। वहीं चीन (China) इन सबसे बेखबर दुनिया को अपना दम दिखाने में लगा हुआ है। तभी हाल ही चीनी नौसेना ने रियलिस्टिक मैरीटाइम ऑपरेशंस में भाग लिया। इतना ही नहीं 10 दिन पहले भी चीन ने एक अनजान जगह पर युद्धाभ्यास किया था। चीन के इस बदले तेवर से दुनिया में दहशत है। सबसे ज्यादा डर जापान (Japan) और ताइवान (Taiwan) को है। उन्हें आशंका है कि चीन कोरोना की आड़ में कहीं उन पर हमला (Attack) न कर दे।

मालूम हो कि चीन ने दक्षिणी समुद्री इलाके में गाइडेड मिसाइल से लैस यूलिन और सूचांग युद्धपोत से मिसाइल दागे। दोनों युद्धपोतों से सैकड़ों बम-गोले, मिसाइलें और गाइडेड मिसाइलों का परीक्षण किया गया। चीनी नौसेना ने इस युद्धाभ्यास में फॉर्मेशन मैन्यूवर, लाइव फायर ऑपरेशंस, एंटी-सबमरीन वॉरफेयर, ज्वाइंट सॉल्वेज जैसी चीजें की। सेना ने इसकी जानकारी चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स को दी। साथ ही कुछ तस्वीरें भी शेयर की हैं।

चीन ने जहां ये शक्ति परीक्षण किया है उसकी के पास जापान और ताइवान है। इसलिए दोनों देशों को सबसे ज्यादा खतरा है। चीन के युद्धाभ्यास को देखते हुए जापान ने चीन से सटे अपने मियाकोजिमा द्वीप पर मिसाइलें और 340 सैनिक तैनात कर दिए हैं। ताइवान ने भी आरोप लगाया है कि चीन ने उसके एयरस्पेस में 29 मार्च 2020 की रात को फाइटर जेट भेजे थे। जिसकी सूचना मिलने पर ताईवान की एयरफोर्स ने उन्हें भगाया।