कनाडा: 30 सालों में सबसे भयानक गोलीबारी, संदिग्ध समेत 16 लोगों की मौत

|

Updated: 20 Apr 2020, 10:56 AM IST

Highlights

  • 51 वर्षीय संदिग्ध हमलावर के भी मारे जाने की खबर है।
  • इस घटना में पुलिस के एक अफसर की भी मौत हो गई।

ओटावा। आमतौर पर शांत रहने वाले कनाडा के नोवा स्कोटिया में रविवार को हुई गोलीबारी में 16 लोगों की मौत हो गई। यह देश में बीते 30 सालों में हुई सबसे भयानक घटना बताई जा रही है। करीब 12 घंटे चली इस गोलीबारी की घटना में एक महिला पुलिस अफसर की मौत होने की खबर है। अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में गोलीबारी करने वाले संदिग्ध की भी मौत हो गई। साथ ही कई लोगों के घायल होने की खबर है। इस मामले में एक और संदिग्ध गिरफ्तार हुआ है।

पुलिस ने बताया कि पोर्टापिक्यू में एक घर के अंदर और बाहर कई शव मिले हैं। इस घटना के बाद पुलिस ने कोरोना वायरस की वजह से लागू लॉकडाउन को न तोड़ने की सलाह दी है। उन्होंने लोगों से अपने दरवाजों को बंद करने और बेसमेंट में रहने की बात की।

पुलिस ने गोली चलाने वाले शख्स की पहचान 51 वर्षीय गैबरियल वोर्टमैन के रूप में की है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार शूटर ने खुद पुलिस की तरह दिखने वाली पोशाक पहन रखी थी। उसने अपनी कार को भी कैनाडियन पुलिस की कार की तरह बना रखी थी।

वोर्टमैन को शहर के एक गैस स्टेशन से गिरफ्तार किया गया। कुछ देर बात पुलिस ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस घटना में 13 लोगों की मौत हुई है। वहीं, शूटर की भी मौत हो गई। मृतकों की संख्या आगे बढ़ सकती है। पुलिस का कहना है कि यहां पर लॉकडाउन लागू होने के बाद भी इस तरह की गोलीबारी कैसे हुई, इसकी जांच की जा रही है।

कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो ने नोवा स्कॉटिया में हुई गोलीबारी की घटना पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने सभी कनाडाई नागरिकों को संदेश दिया है हम यहां आपके लिए हैं और आगे भी आपके लिए रहेंगे।