भारत को डॉक्टर फाउची की सलाह, कोरोना की रोकथाम के लिए कुछ हफ्तों का लॉकडाउन जरूरी

|

Published: 01 May 2021, 09:13 AM IST

डॉक्टर फाउची अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) के प्रशासन के मुख्य चिकित्सा सलाहकार रहे हैं। कोरोना को नियंत्रित करने को लेकर तीन चरणों के उपायों के बारे में बताया है।

वॉशिंगटन। भारत (India) में कोरोना वायरस से हालात (Covid Situation) बिगड़ते जा रहे हैं। देश में करीब एक हफ्ते से रोज तीन लाख से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस (Coronavirus) पर काम कर रहे डॉक्टर एंथोनी फाउची (Dr Anthony S Fauci) ने भारत की स्थिति पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

Read More: भारत में कोरोना संक्रमण के कारण बाइडेन सरकार ने अपने नागरिकों को देश लौटने की दी सलाह

उन्होंने भारत को सलाह दी है कि देश में वायरस को फैलने से रोकने के लिए कुछ हफ्तों के लिए शटडाउन लगाना चाहिए। इस दौरान उन्होंने देश में टीकाकरण की स्थिति को लेकर भी चर्चा की है। डॉक्टर फाउची अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) के प्रशासन के मुख्य चिकित्सा सलाहकार रहे हैं।

स्वास्थ्य खामियों को दूर करने की आवश्यकता

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डॉक्टर फाउची ने देश में कोविड स्थिति को नियंत्रित करने को लेकर तीन चरणों-तत्काल, मध्यम और लंबी अवधि के उपायों के बारे में बताया है। उन्होंने कहा कि इस समय लोगों को टीका लगाया जाना बेहद जरूरी है। इसके साथ ऑक्सीजन और दूसरी स्वास्थ्य खामियों को दूर करने की आवश्यकता है। उन्होंने आयोग या आपातकालीन समूह तैयार करने को कहा है। उन्होंने कहा कि ये प्लान तैयार किया जाए ऑक्सीजन कैसे प्राप्त करना है। इसके लिए डॉक्टर फाउची ने विश्व स्वास्थ्य और अन्य देशों से चर्च की सलाह दी है।

Read More: नील आर्मस्ट्रॉन्ग को चांद पर पहुंचाने वाले Apollo 11 मिशन के पायलट माइकल कॉलिंस नहीं रहे, कैंसर से हुआ निधन

सेना की मदद लेनी चाहिए

मध्यम स्तर पर काम को लेकर उन्होंने कहा कि अस्पताल जल्द से जल्द बनाए जाने चाहिए। उन्होंने युद्ध के दौरान फील्ड अस्पताल जैसे मॉडल की बात कही है। इसके लिए उन्होंने चीन और अपने देश का उदाहरण पेश किया। उन्होंने कहा कि भारत में सेना की मदद लेनी चाहिए। डॉक्टर फाउची ने कहा है कि ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि पहले तुरंत परेशानी को समझने की कोशिश करनी चाहिए। इसके तुरंत मध्यम स्तर की चीजों की पूर्ति करनपी चाहिए। इसके बाद वैक्सीन लगाने को लेकर स्थाई उपाय किए जाएं।