अमरीका ने नागरिकों को श्रीलंका और जापान न जाने की दी सलाह, कहा-यहां संक्रमण तेजी से फैल रहा

|

Published: 26 May 2021, 12:30 PM IST

सभी टीके लेने वाले यात्रियों में भी कोरोना वायरस के अलग-अलग प्रकारों के संक्रमण खतरा देखा जा रहा है।

वॉशिंगटन। कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण को लेकर अमरीका के स्वास्थ्य अधिकारियों और गृह विभाग ने अपने नागरिकों को जापान और श्रीलंका न जाने का सुझाव दिया है। गौरतलब है कि जापान में दो माह के अंदर ओलंपिक खेलों की मेजबानी होगी। वहीं श्रीलंका में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

Read More: पाकिस्तान: भारतीय उच्चायोग के 12 अधिकारियों को क्वारंटीन होने के दिए गए निर्देश

ओलंपिक खेलों में भाग लेने पर दोबारा से विचार

अमरीकी नागरिकों को जापान की यात्रा करने से प्रतिबंधित नहीं किया गया है लेकिन इससे खिलाड़ी जुलाई में शुरू होने वाले ओलंपिक खेलों में भाग लेने पर दोबारा से विचार कर सकते हैं। अटलांटा स्थित रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ने सोमवार को कोरोना वायरस से संबंधित नए दिशानिर्देश जारी कर कहा कि यात्रियों को जापान की यात्रा करने से बचना चाहिए। जापान के वर्तमान हालात को देखते हुए, यहां तक कि सभी टीके लेने वाले यात्रियों में भी कोरोना वायरस के अलग-अलग प्रकारों के संक्रमण खतरा देखा जा रहा है।

चार दिनों की पाबंदी लगाई

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामले और मौतों की संख्या की लगातार बढ़ती जा रही है। श्रीलंका ने यात्री ट्रेनों और बसों के परिचालान पर चार दिनों की पाबंदी लगाई है। यह कदम तब उठाया गया जब प्रमुख चिकित्सा संगठनों ने सरकार से देश में दो सप्ताह का लॉकडाउन लगाने को कहा है।

Read More: मालवाहक जहाज में लगी आग : श्रीलंकाई नौसेना ने 2 भारतीयों सहित 25 क्रू मेंबर्स को बचाया

वास्तविक संख्या तीन गुना से भी अधिक

इन संगठनों के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमण की वास्तविक संख्या तीन गुना से भी अधिक है। श्रीलंका में पहले ही सार्वजनिक समारोहों, पार्टियों, शादियों पर रोक लगा दी है। स्कूलों तथा विश्वविद्यालयों को पहले ही बंद कर दिया गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार श्रीलंका में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 1,54,786 हो चुकी है। वहीं महामारी से 1089 लोगों की मौत हो चुकी है।