ठंड से कांपा उत्तर भारत: श्रीनगर में डल झील जमी, लद्दाख में पारा माइनस 28.4 पहुंचा

|

Published: 13 Jan 2021, 10:31 PM IST

Weather Forecast : श्रीनगर में बुधवार को तापमान माइनस 7.8 डिग्री सेल्सियस रहा और ये इस सीजन की सबसे ठंडी रात थी

Weather Forecast : माउंट आबू से लेकर जम्मू-कश्मीर से लेकर तक कड़ाके की ठंड पड़ रही है। श्रीनगर में तो माइनस 7.8 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ मौसम की सबसे ठंडी रात दर्ज की गई। ऐसा अब से 8 साल पहले 14 जनवरी 2013 को हुआ था। जब शहर का तापमान इतना नीचे गिरा हो।

Weather Update : सर्दी का सितम जारी, अभी नहीं मिलेगी ठंड से राहत, जानें- मौसम विभाग का पूर्वानुमान

जम्मू-कश्मीर में ठंड का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वहां कि डल झील पूरी तरह से जम गई है। वैसे झील के हिस्से दो दिन पहले से ही जमने लगे थे लेकिन बीती रात पूरी झील बर्फ में तब्दील हो गई।

मौसम विभाग के अनुसार, श्रीनगर में बुधवार को न्यूनतम तापमान माइनस 7.8, पहलगाम में माइनस 11.7 और गुलमर्ग में माइनस 10 डिग्री सेल्सियस रहा। जम्मू शहर का न्यूनतम तापमान 6.9, कटरा में 4.4, बटोटे में 4.9, बेनिहाल में 4.0 और भद्रवाह में माइनस 0.4 डिग्री सेल्सियस रहा।

मौसम विभाग का यूपी में अगले पांच दिन कड़ाके की ठंड, शीतलहर और घने कोहरे का अलर्ट

घाटी के साथ ही लद्दाख में सिंधु नदी के पानी में कई जगह बर्फ के टुकड़े बहते हुए देखने को मिले। लद्दाख के लेह शहर में रात का न्यूनतम तापमान माइनस 16.3, कारगिल में माइनस 19.6 और द्रास में माइनस 28.4 रहा।मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में लदाख का पारा भी शून्य से कई डिग्री नीचे जा सकता है।

Weather Forecast : बर्फीली हवाओं ने बढ़ाई कंपकंपी, मौसम विभाग ने शीतलहर का जारी किया अलर्ट

मौसम विभाग के मुताबिक जम्मू-कश्मीर में इन दिनों 'चिल्लई-कलां' चल रहा है। जिसकी वजह से ठंड बढ़ गई है। 'चिल्लई-कलां' के दौरान कश्मीर घाटी में 40 दिनों तक भीषण ठंड रहती है और तापमान शून्य से कई डिग्री नीचे चला जाता है। इस साल ये 21 दिसंबर को शुरू हुआ था और ये 31 जनवरी को खत्म होगा। 'चिल्लई-कलां' के खत्म होने के बाद 'चिल्लई-खुर्द' चलेगा जो 20 दिनों तक रहेगा। इसके खत्म होते ही जम्मू-कश्मीर में ‘चिल्लई-बच्चा' शुरू हो जाएगा और ये 10 दिन का चलेगा।

बता दें इस साल 'चिल्लई-कलां' की वजह से जम्मू-कश्मीर के कई इलाकों के लिए यलो अलर्ट जारी है। ठंड की वजह से घाटी में पानी की समस्या भी शुरू होने लगी है क्योंकि ज्यादातर पानी बर्फ बन चुकी है।