ट्रेनी IPS अफसरों से बोले पीएम मोदी, फील्ड में रहते हुए देशहित में लें फैसले

|

Published: 31 Jul 2021, 12:56 PM IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हैरदाबाद के सरदार वल्लभभाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी में ट्रेनी IPS अफसरों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए की बात, गृहमंत्री अमित शाह भी रहे मौजूद

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 'सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी' हैदराबाद में उपस्थित आईपीएस ( IPS ) प्रोबेशनर्स के साथ बातचीत की। पीएम मोदी ने ट्रेनी IPS अफसरों से कहा कि, बीते 75 वर्षों में भारत ने एक बेहतर पुलिस सेवा के निर्माण का प्रयास किया है।

आपके विचार, सवाल, उत्सुकता, मेरे लिए भी भविष्य की चुनौतियों से निपटने में सहायक होंगे। पीएम मोदी ने कहा, 'फिटनेस पुलिस के लिए बहुत बड़ी ज़रूरत है। मुझे लगता है कि आप जैसे उत्साहित युवा पुलिस सुधारों को सिस्टम में आसानी से लागू कर सकते हैं।' पीएम ने कहा फील्ड में रहते हैं देशहित में फैसले लें। इस मौके पर गृहमंत्री अमित शाह भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ेंः कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई ने पीएम मोदी से की मुलाकात, राज्य के लिए मांगा एम्स

पीएम मोदी ने कहा, पुलिस ट्रेनिंग से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर में भी हाल के वर्षों में बहुत सुधार हुआ है। इस वर्ष की 15 अगस्त की तारीख, अपने साथ आजादी की 75वीं वर्षगांठ लेकर आ रही है। बीते 75 वर्षों में भारत ने एक बेहतर पुलिस सेवा के निर्माण का प्रयास किया है। पुलिस ट्रेनिंग से जुड़े इंफ्रास्ट्रक्चर में भी हाल के वर्षों में बहुत सुधार हुआ है।

नेशन फर्स्ट, ऑलवेज फर्स्ट की भावन रिफलेक्ट हो
IPS अफसरों से बातचीत में पीएम ने कहा कि आपको हमेशा ये याद रखना है कि आप एक भारत, श्रेष्ठ भारत के भी ध्वजवाहक हैं। आपके हर एक्शन, आपकी हर गतिविधि में नेशन फर्स्ट, आलवेज फर्स्ट ( Nation First, Always First ), राष्ट्र प्रथम, सदैव प्रथम की भावना रिफ्लेक्ट होनी चाहिए।

पीएम ने कहा, आपकी सेवाएं देश के अलग-अलग जिलों में होगी, शहरों में होगी। ऐसे में आपको एक मंत्र याद रखना है। फील्ड में रहते हुए जो भी फैसले लें, उसमें देशहित होना चाहिए। राष्ट्रीय परिपेक्ष्य होना चाहिए।

कोरोना से जंग में पुलिसकर्मियों का बड़ा योगदान
पीएम ने कहा, कोरोना से जंग में हमारे पुलिसकर्मियों ने, देशवासियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम किया है।

इस प्रयास में कई पुलिस कर्मियों को अपने प्राणों ही आहुति तक देनी पड़ी है। 'मैं उन्हें श्रद्धांजलि देता हूं और देश की तरफ से उनके परिवारों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं।'

यह भी पढ़ेंः जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष को लेकर जल्द होगा फैसला, जानिए किसके नाम की चर्चा

बेटियों की भागीदारी बढ़ाने का प्रयास
बीते वर्षों में पुलिस फोर्स में बेटियों की भागीदारी को बढ़ाने का निरंतर प्रयास किया गया है। हमारी बेटियां पुलिस सेवा में जिम्मेदारी के साथ विनम्रता, सहजता और संवेदनशीलता के मूल्यों को सशक्त करती हैं।

Related Stories