नीतीश कुमार ने नहीं दी इस बात को तवज्जो, कहा - वो अपने रास्ते पर चले गए

|

Updated: 26 Dec 2020, 09:44 AM IST

 

  • पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की प्रस्तावित बैठक की तैयारी में जुटे नीतीश।
  • नीतीश ने पार्टी में टूट को नहीं दिया महत्व।

 

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की दूसरी सबसे बड़ी पार्टी जेडीयू को अरुणाचल प्रदेश में बड़ा झटका लगा है। जेडीयू के 6 विधायक बीजेपी में शामिल हो गए। हालांकि, बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने पार्टी में इस टूट को तवज्जो नहीं दी है। जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने इस मामले में केवल इतना बताया कि इससे पार्टी को नुकसान पहुंचा है। इसके बदले नीतीश कुमार ने कहा कि हमारा ध्यान जेडीयू राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक पर है। जहां तक अरुणाचल प्रदेश की बात है तो बीजेपी में जाने वाले विधायक अपने रास्ते चले गए हैं।

मरने तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे थे कांग्रेस के दिवंगत नेता, क्या नीतीश कुमार तोड़ पाएंगे उनके कार्यकाल का रिकॉर्ड?

बीजेपी के साथ गठबंधन बिहार तक सीमित

बता दें कि जेडीयू ने पिछले साल अरुणाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में 7 सीटें जीती थीं और क्षेत्रीय पार्टियों को झटका देते हुए वहां की मुख्य विपक्षी दल के रूप में उभरी थी। जेडीयू कई राज्यों में बीजेपी के समर्थन के बिना विधानसभा चुनाव लड़ रही है। जेडीयू नेताओं का कहना है कि बीजेपी के साथ उनका गठबंधन केवल बिहार तक सीमित है।