Election Time: कोई गोद, कोई पीठ तो कोई मीलों साइकिल चलाकर पहुंचा वोट डालने, जानें क्यों खास है इनकी कोशिश

|

Published: 03 Nov 2020, 12:32 PM IST

  • Election Time बिहार विधानसभा के दूसरे चरण समेत 10 राज्यों में उपचुनाव के लिए हो रहा मतदान
  • Coronavirus महामारी के बीच मतदाताओं का हौसला दिखा भारी
  • गोद,पीठ और साइकिल पर पहुंचकर भी किया अपने मताधिकार का इस्तेमाल

नई दिल्ली। देशभर में मंगलवार को बिहार विधानसभा चुनाव ( Bihar Assembly Polls ) के दूसरे चरण के साथ 10 राज्यों की 58 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है। ऐसे में बिहार से लेकर मध्यप्रदेश, तो गुजरात से लेकर हरियाणा तक मतदान का अद्भुत नजारा देखने को मिल रहा है। खास बात यह है कि कोरोना वायरस ( Coronavirus ) जैसी महामारी पर भी मतदाताओं का हौसला भारी नजर आ रहा है।

दरअसल मतदान केंद्रों पर ना केवल युवा बल्कि बुजुर्ग पर भी अपने मताधिकार का पूरे जज्बे के साथ इस्तेमाल करते नजर आ रहे हैं। कोई पीठ पर तो कोई गोद में तो कई मीलों साइकिल चलाकर वोट डालने के अपने अधिकार का इस्तेमाल करने पहुंच रहा है।

करवा चौथ पर पूजा के वक्त वास्तु का रखें ध्यान मिलेगा विशेष वरदान, इस बार इन हस्तियों के लिए खास है व्रत का पहला मौका

लोगों का लोकतंत्र के महापर्व में इस तरह हिस्सा लेना ये बताता है कि जनता अब कितनी जागरूक हो चुकी है और अपने वोट के जरिए सत्ता पर उसी को बैठने की इजाजत देगी जो इसका असली हकदार है।
आईए डालते हैं ऐसे ही कुछ मतदाताओं पर जिनका हौसला कोविड-10 महामारी पर दिखा भारी।

1. हरियाणा: सोनीपत भैंसवाल कलां में एक शख्स अपने बुजुर्ग पिता जो चलने में असमर्थ थे, उन्हें अपनी पीठ पर लेकर मतदान केंद्र तक पहुंचा। यहां पहुंचने के बाद इस शख्स के साथ उसके बुजुर्ग पिता ने भी अपने मतातिधिकार का प्रयोग किया। वीडियो में आप देख सकते हैं किस तरह हर कोई इस बुजुर्ग के हौसले को देख रहा है।

2. मध्य प्रदेश: ग्वालियर में उपचुनाव में राज्य विधानसभा क्षेत्र में अपना वोट डालने में मदद करने के लिए एक व्यक्ति अपनी बुजुर्ग मां को गोद में उठाकर पोलिंग बूथ तक पहुंचा। वीडियो में आप देख सकते हैं किस तरह ये व्यक्ति कोरोना संकट के बीच बुजुर्ग मां को मताधिकार के इस्तेमाल के लिए लेकर आया है। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश की 28 विधानसभा सीटों पर मतदान हो रहा है।

3. बिहार: दूसरे चरण में वोट डालने के लिए साइकिल पर अपनी दादी के साथ पटना के एक मतदान केंद्र पर एक युवती पहुंची। इस युवती का जोश भी किसी से कम नहीं था। मीलों साइकिल चलाकर वो सिर्फ इसलिए आई क्योंकि उसकी बुजुर्ग दादी वोट डाल सके। युवती ने बताया कि "मैं अपनी दादी के साथ यहां आई हूं। मैं भी पहली बार मतदान करूंगी। मुझे उम्मीद है कि अब हमारे पास युवाओं के लिए रोजगार के अधिक अवसर होंगे।"

मतदान के दौरान लाइन तोड़कर वोट डालने पहुंचे सुशील कुमार मोदी, इन चुनावों में ये दिग्गज हस्तियां पर दिखा चुकी हैं VIP Culture

इसलिए खास इनका मतदान
हर बार चुनाव के दौरान होने वाले मतदान में आप इस तरह बुजुर्गों को मतदान केंद्र तक आते तो कई बार देख चुके होंगे, लेकिन इस बार इनका मतदान केंद्र तक आना कुछ अलग और खास है। दरअसल इसके पीछे जो बड़ी वजह है वो ये कि इस बार पूरी दुनिया कोरोना वायरस जैसी महामारी से गुजर रही है। भारत भी इस वक्त कोरोना संकट से निपटने में लगा है।

ऐसे में लॉकडाउन के बाद खासतौर पर बुजुर्गों को अति आवश्यकत काम ना होने पर अब भी घरों से बाहर ना निकलने की हिदायत दी गई है। ऐसे में इन बुजुर्गों को परिश्रम कर मतदान केंद्र तक पहुंचना निश्चित रूप से महामारी पर इनके हौसले के भारी होने का सकारात्मक संकेत दे रहा है।