कर्नाटक सरकार ने दिया 1 जून से मंदिरों को खोलने का आदेश, रखनी होगी सोशल डिस्टेंसिंग

|

Updated: 27 May 2020, 08:33 AM IST

- कर्नाटक में 1 जून से खुल जाएंगे सभी मंदिर

- मंदिरों में रखना होगा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान

 

बेंगलुरु। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की वजह से पूरे देश में धार्मिक स्थलों को अभी तक बंद रखा हुआ है। मौजूदा हालात को देखते हुए फिलहाल धार्मिक स्थलों को खोलना काफी मुश्किल भी लग रहा है, लेकिन इस बीच कर्नाटक सरकार ( Karnataka government ) ने 1 जून से सभी मंदिरों को खोलने का ऐलान कर दिया है।

मंदिरों में सोशल डिस्टेंसिंग का रखना होगा ध्यान

मंगलवार को कर्नाटक सरकार ने मंदिरों को खोलने का ऐलान किया। इस दौरान सरकार ने खास तौर पर मंदिरों में दर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग ( Social Distancing ) का खास ध्यान रखने की बात कही है। राज्य के मंत्री कोटा श्रीनिवास पुजारी ने मंदिरों के खोलने की जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि जल्द ही सरकार इसके दिशा निर्देश जारी करेगी।

52 मंदिरों में शुरू होगी ऑनलाइन बुकिंग

राज्य सरकार के मुताबिक, भक्तों के दर्शन के लिए 31 मई तक सभी मंदिर जरूरी तैयारियां पूरी करेंगे। इसके अलावा 27 मई से 52 मंदिरों में ऑनलाइन सेवा शुरू होगी।

पूरे देश में 25 मार्च से बंद हैं सभी धार्मिक स्थल

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के प्रकोप की वजह से पूरे देश में सभी धार्मिक स्थल 25 मार्च से बंद हैं। केंद्र सरकार (Central Government) ने लॉकडाउन में अन्य गतिविधियों की तरह धार्मिक स्थलों और आयोजनों को भी बंद रखने का फैसला किया गया था। अन्य चरणों की तरह लॉकडाउन के चौथे चरण में भी मंदिरों को बंद रखने का फैसला किया गया था। ऐसे में मंदिर खोलने का फैसला करने वाला कर्नाटक पहला राज्य बन गया है।

कर्नाटक में 2 हजार को पार कर गया है कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा

बात करें कर्नाटक में कोरोना की स्थिति की तो यहां कोरोना संक्रमण के 100 ताजा मामले सामने आए हैं, जिसके साथ ही प्रदेश में इससे संक्रमित लोगों की संख्या 2282 हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी। कर्नाटक सरकार की ओर से जारी दोपहर के बुलेटिन में कहा गया कि इस बीमारी से राज्य में अबतक 44 मरीजों की मौत हो गयी है, जबकि 722 संक्रमितों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।