कहीं आपके राज्य पर तो नहीं मंडरा रहा कोरोना का खतरा? केंद्र ने दिए कड़ाई के निर्देश

|

Updated: 27 Feb 2021, 08:27 PM IST

  • देश में कोविड वैक्सीनेशन के बावजूद कोरोना का दानव फिर से सिर उठाता नजर आ रहा है
  • केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र और पंजाब समेत आठ राज्यों के लिए सख्त दिशा निर्देश जारी किए

नई दिल्ली। देश में कोविड वैक्सीनेशन अभियान ( Corona Vaccination ) के बावजूद कोरोना वायरस ( Coronavirus in India ) का दानव फिर से सिर उठाता नजर आ रहा है। यही वजह है कि केंद्र सरकार इसको लेकर काफी गंभीर नजर आ रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ( Union Ministry of Health ) की ओर से अपील की गई है कि कोरोना का संकट ( Coronavirus Crisis ) अभी पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है, लिहाजा इसको लेकर पूरा अहतियात बरता जाए। यही नहीं केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र और पंजाब समेत आठ राज्यों के लिए सख्त दिशा निर्देश जारी किए हैं। यही नहीं केंद्र सरकार ने कोरोना की गाइडलाइंस का उल्लंघन करने पर सख्त कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए हैं।

प्राइवेट अस्पतालों में इतने रुपए में मिलेगी Corona Vaccine की एक डोज, सरकार जल्द कर सकती है घोषणा

इन राज्यों में बढ़े कोरोना के केस

दरअसल, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने शनिवार को गुजरात, पंजाब, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, जम्मू-कश्मीर और तेलंगाना के मुख्य सचिवों के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में कबिनेट सचिव ने इन राज्यों से कोरोना संक्रमण को लेकर पूरी सर्तकता बरतने की जरूरत पर बल दिया। गौबा ने कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए हर संभव प्रयास किए जाएं, ताकि इस दिशा में उठाए गए कदमों को लेकर सफलता प्राप्त की जाए। गौबा ने कहा कि कोरोना को हराने के लिए राज्य सरकारों की ओर से पूरी गंभीरता के साथ प्रयास किए जाने चाहिए। इसके लिए अधिक से अधिक टेस्टिंग कराए जाने की जरूरत है।

Ghazipur Border पर क्यों घट रही किसानों की संख्या? किसान नेताओं ने बताया कारण

तेलंगाना में शनिवार को कोरोना वायरस के 178 नए मामले

आपको बता दें कि तेलंगाना में शनिवार को कोरोना वायरस के 178 नए मामले दर्ज हुए, जिससे राज्य में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 2.98 लाख हो गई। वहीं, पिछले 24 घंटों में 148 लोग इस बीमारी से ठीक हुए हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। शुक्रवार को, लगभग 90 फीसदी नए मामले छह राज्यों - महाराष्ट्र, केरल, तमिलनाडु, पंजाब, कर्नाटक और गुजरात से आए, जबकि छह राज्यों में 84.62 फीसदी लोगों की मौत हुई, जिसमें महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, तमिलनाडु, छत्तीसगढ़ और कर्नाटक शामिल हैं।

मंत्रालय ने यह भी बताया कि शुक्रवार को 7,73,918 नमूनों का परीक्षण किया गया था। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) द्वारा अब तक किए गए कुल 21,54,35,383 नमूनों का परीक्षण हो चुका है। देश में अब तक कोरोना वैक्सीन की 1,42,42,547 खुराक दी जा चुकी है। कोविड-19 महामारी के खिलाफ टीकाकरण के तीसरे चरण की शुरूआत 1 मार्च से होगी।