दिल्ली पुलिस का दावा, कहा- दिशा ने ही ग्रेटा को भेजा था टूलकिट

|

Published: 15 Feb 2021, 04:52 PM IST

Highlights

  • दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अब तक की जांच को लेकर जानकारी दी है।
  • बताया कि दिशा ने टूलकिट को व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर शेयर किया है।

नई दिल्ली। पिछले दिनों 16 साल की पर्यावरणविद ग्रेटा थनबर्ग द्वारा किसान आंदोलन को मिले समर्थन के बाद कई आपत्तिजनक जानकारियां सामने आई थीं। टूलकिट को लेकर पुलिस ने जांच के दौरान दिशा रवि को गिरफ्तार किया था।

किसान महापंचायत में बोलीं प्रियंका- जनता ने मोदी को दो-दो बार पीएम क्यों बनाया

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर टूलकिट मामले में अब तक की जांच के बारे में और दिशा रवि की गिरफ्तारी को लेकर जानकारी दी है। दिल्ली पुलिस के अनुसार यह टूलकिट बेहद ही सुनियोजित तरह से तैयार की गई है। इसमें किस तरह से किसान आंदोलन को समर्थन देना है उसका पूरा खाका दिया गया है।

दिल्ली पुलिस के अनुसार दिशा ने टूलकिट को व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर शेयर किया है। सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने की कोशिश की। टूलकिट को विश्वस्तर पर फैलाने की साजिश थी। टूलकिट में गलत जानकारियां दी गईं।

इस टूलकिट का संबंध खालिस्तानी संगठन से भी है। इस टूलकिट को चार फरवरी को तैयार किया गया था। इस टूलकिट में योग और चाय को नुकसान पहुंचाने से लेकर दूतावासों को नुकसान करने के तरीके की बात की गई है। इससे भारत की छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई है।