Bengal : बीजेपी ने चुनाव आयोग से जताई इस बात की आशंका, टीएमसी ने दावों को किया खारिज

|

Updated: 21 Jan 2021, 02:53 PM IST

  • चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलां के साथ की बैठक।
  • बीजेपी ने राज्य में गृह युद्ध जैसे हालात के आरोप लगाए।

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में चुनावी सरगर्मी के बीच गुरुवार को मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में अधिकारियों ने राजनीतिक दलों के साथ बैठक की। बैठक मेंं भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने चुनाव आयोग से अपनी शिकायत में कहा है कि राज्य में गृह युद्ध जैसे हालात हो गए हैं। आयोग इस बात को ध्यान में रखते हुए अपनी तैयारी करे।

चुनाव आयोग से बीजेपी नेताओं ने मांग की है कि मतदाता सूची ऑडिट कराने की मांग की। बीजेपी का आरोप है कि बॉर्डर इलाकों के वोटर्स लिस्ट में बांग्लादेश के लोगों को एंट्री दी गई है। चुनाव आयोग के साथ बैठक में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष, स्वप्न दासगुप्ता और सब्यासाची दत्त मिलने पहुंचे थे।

जवान लोगों को धमका रहे हैं

वहीं तृणमुल कांग्रेस के नेता पार्थो चटर्जी ने चुनाव आयोग को बताया कि बॉर्डर इलाकों में बीएसएफ एक ही पार्टी के लिए काम कर रही हैं हालंकि इस दौरान उन्होंने किसी पार्टी का नाम नहीं लिया। टीएमसी नेता ने कहा कि बीएसएफ के जवान लोगों को डरा धमका रहे हैं। उन्होंने कहा कि वोटर लिस्ट में रोहिंग्या का नाम नहीं जुड़ा है। अगर कोई कह रहा है तो वह झूठ है।