रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब स्पेशल ट्रेनों में भी सामन्य टिकट पर कर सकेंगे यात्रा

|

Published: 08 Sep 2021, 11:47 AM IST

कोरोना संक्रमण काल में स्पेशल बनकर दौड़ रही ट्रेनों में 10 सितंबर से मिलेगी सामान्य टिकट पर यात्रा की अनुमति।

मेरठ. कोरोना संक्रमण काल में पिछले एक साल रेलवे ने अधिकांश सुविधाओं में कटौती कर दी थी, लेकिन अब रेलवे धीरे-धीरे इन सुविधाओं को बहाल कर रहा है। इसके तहत रेल यात्रियों को रेलवे ने एक बड़ी राहत दी है। अब रेलयात्री अनारक्षित टिकट पर स्‍पेशल ट्रेनों में यात्रा कर सकेंगे। कोरोना संक्रमण काल में स्पेशल ट्रेन बनकर दौड़ रहीं ट्रेनों में अब बिना आरक्षण वाले यात्री भी 10 सितंबर से यात्रा कर सकेंगे।

इन ट्रेनों में अनारक्षित डिब्बों की संख्या बढ़ा दी गई है। उत्तर भारत के पांच राज्यों के बीच दौड़ रही स्पेशल दर्जे की ट्रेनों में अनरिजर्व टिकट सिस्टम (यूटीएस) से टिकट लेकर यात्रा करने के प्रस्ताव को रेलवे ने मंजूरी दे दी है। इससे उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, हिमाचल, पंजाब, जम्मू कश्मीर के यात्रियों को मिलेगी राहत मिलेगी। रेल यात्री अब सीधे टिकट काउंटर से टिकट लेकर इन ट्रेनों में यात्रा कर सकेंगे। ये ट्रेनें उत्तरी भारत के कई राज्यों से होकर गुजरती हैं। हालांकि अभी सिर्फ 20 ट्रेनों में ही येे सुविधा बहाल की गई है। माना जा रहा है कि जल्द ही अन्य ट्रेनों में भी यह सुविधा बहाल की जाएगी।

यह भी पढ़ें- Noida International Airport : दिल्ली से सस्ता हो सकता है जेवर एयरपोर्ट का हवाई सफर, यात्रियों को मिल सकता है ये बड़ा तोहफा

इन ट्रेनों में मिलेगी सुविधा

- 04521/22-अंबाला कैंट से ओल्ड दिल्ली : गाड़ी में तीन डिब्बे आरक्षित श्रेणी के हैं। जबकि प्रपोजल है एक डिब्बा रिजर्व रहे, बाकी सामान्य।

- 04681/82-न्यू दिल्ली से जालंधर सिटी: ट्रेन में चार डिब्बे आरक्षित हैं। प्रपोजल है कि दो डिब्बों को छोड़कर सभी अनारक्षित हो।

- 04525/26-अंबाला कैंट से श्रीगंगानगर: ट्रेन में पांच डिब्बे आरक्षित हैं। प्रपोजल है कि दो डिब्बे रिजर्व रहे और बाकि के सामान्य।

- 04711/12-श्रीगंगानगर से हरिद्वार: ट्रेन में पांच डिब्बे रिजर्व हैं। प्रपोजल है कि तीन डिब्बे रिजर्व रहे। बाकि के अन्य डिब्बे अनारक्षित।

- 04209/10-लखनऊ से प्रयागराज संगम: ट्रेन में तीन डिब्बे रिजर्व हैं। प्रपोजल है कि एक डिब्बा रिजर्व और शेष अनारक्षित।

- 04215/16-लखनऊ से प्रयागराज संगम: ट्रेन में तीन डिब्बे रिजर्व हैं। प्रपोजल है कि एक डिब्बा रिजर्व रहे, जबकि अन्य अनारक्षित।

- 04231/32-प्रयागराज संगम से बस्ती: ट्रेन में पांच डिब्बे आरक्षित हैं। प्रपोजल है कि तीन डिब्बे रिजर्व रहे और अन्य सामान्य श्रेणी के।

- 04269/70-लखनऊ से वाराणसी: ट्रेन में चार डिब्बे आरक्षित हैं। प्रस्ताव है एक डिब्बा रिजर्व रहे, शेष सामान्य।

- 04087/88-तिलक ब्रिज से सिरसा: ट्रेन में चार डिब्बे रिजर्व हैं। प्रपोजल है कि एक डिब्बा रिजर्व रहे, जबकि अन्य सामान्य।

यह भी पढ़ें- रोपवे से निहार सकेंगे काशी, ट्रैफिक व्यवस्था होगी बेहतर