Weather Alert: कमजोर हुआ वेस्टर्न डिस्टर्बेंस, अगले 24 घंटे में बारिश से मिलेगी राहत

|

Published: 17 Jun 2021, 10:26 AM IST

आज सुबह हुई हल्की बारिश से बढ गई उमस। मौसम में परिवर्तन से तापमान में हल्की वृद्धि। 24 घंटे के भीतर एक बार और बारिश की संभावना।

मेरठ। IMD Rain Alert. गुरुवार सुबह हुई हल्की बारिश (rain) के बाद निकली धूप ने उमस बढ़ा दी है। जिसके चलते लोगों को चिपचिपी गर्मी (summer) से दो चार होना पड़ रहा है। इस समय हवा की रफ्तार बहुत कम होने से वातावरण में आर्द्रता का स्तर बढ़ गया है। जिससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं मौसम विभाग (imd weather aler) ने अगले 24 घंटे के भीतर एक बार और हल्की बारिश की संभावना व्यक्त की है। दरअसल, मौसम में परिवर्तन से तापमान में भी हल्की वृद्धि हुई है। मेरठ का अधिकतम तापमान जहां 33 डिग्री तक पहुंच गया है। जो कि अपने समान्य स्तर से करीब 6 डिग्री कम है। वहीं न्यूनतम तापमान भी इस समय 27 डिग्री तक पहुंच चुका है। यह समान्य से एक डिग्री कम बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: मौसम विभाग का यूपी के इन जिलों में 20 जून तक बारिश, तेज हवा और आकाशीय बिजली का अलर्ट

बता दें कि जून के शुरूआती दिनों में तेज गर्मी उसके बाद दूसरे सप्ताह से शुरू हुई प्री मानसून बारिश करवाने वाला वेस्टर्न डिस्टर्बेंस अब कमजोर पड़ गया। जिससे गर्मी धीरे-धीरे बढ़ने की संभावना जताई जा रही है। लेकिन सुबह एनसीआर के कई इलाकों में हुई हल्की बूंदाबादी से दिन की सुहानी शुरुआत हुई। इस बारिश ने गर्मी से थोड़ी राहत दी है। गुरूवार को तापमान एक बार फिर सामान्य से तीन डिग्री कम 35.3 पर पहुंच गया था और अनुमान लगाया जा रहा था कि अगले 24 घंटों में यह 37 डिग्री तक पहुंच जाएगा।

यह भी पढ़ें: कैंटोनमेंट बोर्ड के स्कूलों में निकली शिक्षकों की भर्ती, 21 जून तक है आवेदन करने का समय

मौसम विभाग ने जानकारी दी थी कि अब कम दबाव का क्षेत्र डिवेलप हो रहा है। जिसकी वजह से मानसून आने के बाद बारिश हो सकती है। हालांकि विभाग ने कहा था कि बारिश के लिए अभी कुछ दिन और इंतजार करना पड़ सकता है। विभाग के मुताबिक, 25 जून के बाद लोगों को गर्मी बहुत ज्यादा परेशान करेगी। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि इससे पहले लगातार आंधी, तेज हवाओं के एक-दो स्पेल देखने को मिलेंगे लेकिन वेस्टर्न डिस्टर्बेंस कमजोर पड़ने से आने वाले दिनों में धूप परेशान कर सकती है। बारिश के बाद लोगों को तीखी और नमी भरी धूप का सामना करना पड़ रहा था।