पांच महीने में 10.90 रुपये महंगा हुआ डीजल, किसान बोले- अब खेती करना मुश्किल

|

Published: 18 Jun 2021, 02:30 PM IST

डीजल की बढ़ती कीमतों से किसान हुए प्रभावित। खेती में एक साल में बढ़ गए चार गुना खर्च। पिछले पांच महीने से लगातार हो रही डीजल वृद्धि से परेशान।

मेरठ। किसानों पर चौतरफा पड़ रही मार के बीच अब एक और आफत तेल कंपनियों की तरफ से पड़ी है। प्रतिदिन बढ़ रही पेट्रोल और डीजल की दरों के चलते किसान परेशान है। इसका असर खेती पर भी पड़ रहा है। पिछले पांच माह में 10.90 रुपये की डीजल में वृद्धि होने से किसान परेशान हैं। ऐसे में किसानों को जुताई और ढुलाई पर 50 से 70 रुपये अधिक खर्च करने पड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: राप्ती नदी के जलस्तर में लगातार हो रही वृद्धि, खतरे के निशान के पहुंची करीब

किसानों का कहना है कि अगर इसी प्रकार कीमतों में वृद्धि होती रही तो खेती में बचत की सोचना भी भारी पड़ जाएगा। सरकारें किसानों के हित में काम करने की बातें कर रही है लेकिन पिछले पांच माह में डीजल की कीमतों में लगातार वृद्धि होने से वह निराश होने लगे हैं। 15 जनवरी को डीजल की कीमत 74.71 रुपये प्रति लीटर थी, जो वर्तमान में 88.34 रुपये पहुंच गई है। जिसके कारण जुताई पर 50 रुपये प्रति बीघा, खाद, गेंहू की ढुलाई पर 50 से 70 रुपये और सिचाई पर 50 से 55 रुपये अतिरिक्त खर्च करने पड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बच्चों को तीसरी लहर से बचाने के प्रयास तेज, तैयार हो रहे डेडीकेटेड आईसीयू वार्ड

लुहारी निवासी किसान हरेंद्र ने बताया कि दिसंबर 2020 में एक बीघा की जुताई 150 रुपये में होती थी,लेकिन अब इसके लिए 250 रुपये देने पड़ रहे हैं। इसी प्रकार खाद्य और गेहूं की ढुलाई पर भी अतिरिक्त रुपये देने पड़ रहे हैं। अगर इसी प्रकार महंगाई होती रही तो खेती में बचत के लाले पड़ जाएंगे। सुखलाल का कहना है कि खाद, बीज के दाम बढ़ने से किसान पहले से ही परेशान है। अब लगातार डीजल की कीमतों में वृद्धि हो रही है, जिसका सीधा असर किसानों पर पड़ रहा है।

पिछले छह माह में डीजल की कीमत में हुई वृद्धि

माह ------ कीमतें (प्रति लीटर में)

-15 जनवरी ---- 74.71 रुपये

-28 जनवरी ---- 76.32 रुपये

-14 फरवरी ---- 78.92 रुपये

-21 फरवरी ---- 80.82 रुपये

-एक मार्च ---- 81.39 रुपये

-23 मार्च ---- 81.04 रुपये

- 16 अप्रैल ---- 80.67 रुपये

-25 अप्रैल ---- 81.70 रुपये

-15 मई ---- 82.86 रुपये

- 21 मई ---- 83.71 रुपये

- 26 मई ---- 84.23 रुपये

-31 मई ---- 85.07 रुपये

- एक जून ---- 85.30 रुपये

- दो जून------ 85.34 रुपये

- 17 जून-------88.39 रुपये