नशामुक्ति केंद्र में रखे बेड से रिस रहा था खून, आगे का हाल देख महिला के उड़ गए होश

|

Updated: 02 Aug 2021, 12:18 PM IST

नशा मुक्ति केंद्र से एक साथ फरार हुए थे तीन युवक बाद में एक की मिली बेड के भीतर लाश दो का अभी तक नहीं लगा काेई सुराग

मेरठ ( Meerut ) थाना टीपी नगर स्थित नशा मुक्ति केंद्र में रखे एक बेड से खून बह रहा था। इसी सेंटर से तीन युवक गायब थे। एक युवक की मां जब सेंटर में पहुंची और बेड खोलकर देखा ताे मां के पैरों तले से जमीन खिसक गई। मौके पर चीख-पुकार मच गई। बेड के भीतर युवक की लाश पड़ी थी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर छानबीन की तो पता चला कि सेंटर से दो युवक फरार हैं। आशंका जताई जा रही है कि फरार हुए दाे युवकों ने तीसरे युवक की हत्या ( murder ) करके उसके शव काे बेड में छिपा दिया।

यह भी पढ़ें: सावन के दूसरे सोमवार शिवालयों में उमड़ा भक्तों का सैलाब, कोरोना की तीसरी लहर से मुक्ति की कामना

( up crime ) टीपीनगर थाना क्षेत्र के शिवपुरम में शिव नशा मुक्ति केंद्र है। यहां पर एक माह से रोहित निवासी शेखपुरा थाना टीपीनगर, संदीप निवासी कंकरखेड़ा और अनूप निवासी गांव कुंडा रह रहे थे। रविवार दोपहर केंद्र का संचालक शिवम शहर में किसी मरीज को लेने गया था, तभी उसकी मां विमलेश ने फोन कर बेटे को तीनों मरीजों के छत के रास्ते भागने की जानकारी दी। वह मौके पर पहुंचा और उनकी तलाश की, लेकिन वे नहीं मिले। रात में शिवम की मां पहली मंजिल पर बने केंद्र में आई तो बेड के नीचे से खून निकलता देखा, जब बेड खोला तो होश उड़ गए। रोहित के हाथ-पैर बंधे हुए थे। मुंह पर भी कपड़ा था। सिर से खून निकल रहा था। उसने पुलिस को फोन किया। कुछ ही देर में थाना पुलिस, सीओ अरविंद चौरसिया और फारेंसिक की टीम भी पहुंच गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पूछताछ में शिवम ने बताया कि दो मरीज और थे इसके चलते ही उन पर हत्या की आशंका जताई जा रही है। पुलिस की दो टीमें उनकी तलाश में जुट गई है। सीओ का कहना है कि शव बेड में मिला था। पोस्टमार्टम कराया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: मायावती के कैडर वोट पर रालोद की सेंधमारी, बनाई ये रणनीति

यह भी पढ़ें: सावन के दूसरे सोमवार शिवालयों में उमड़ा भक्तों का सैलाब, कोरोना की तीसरी लहर से मुक्ति की कामना