तैयारियों को लेकर संत का आगमन

|

Published: 29 Mar 2018, 05:53 PM IST

तैयारियों को लेकर संत का आगमन

तैयारियों को लेकर संत का आगमन

तैयारियों को लेकर संत का आगमन
सालमगढ़ क्षेत्र में खेड़ी गांव में मां चामुंडा के नए मंदिर में स्वर्ण कलश चढ़ाने का आयोजन 15 अपे्रल से 22 अप्रेल तक होगा।इस सात दिवसीय कार्यक्रम में शांतिकुंज हरिद्वार के संत रामशरण ब्रह्मचारी रामकथा का वाचन करेंगे। सालमगढ़ में संत के साथ लगभग 100 से ज्यादा भक्त गायत्री परिवार के साथ सालमगढ़ आए। हनुमान मंदिर में प्रवचन हुए। भगवती विद्या मंदिर के संस्थापक दिनेशचंद्र शर्मा ने बताया कि इस मौके पर कई लोगों ने भाग लिया।
============================================
हत्या का मास्टर माइंड गिरफ्तार
खेरोट में चार माह पहले हुई थी किसान की हत्या
प्रतापगढ़
कोतवाली थाना क्षेत्र के खेरोट गांव में एक खेत पर 12 नवम्बर 2017 को किसान की हत्या के मुख्य आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उक्त आरोपित से और भी वारदातें खुलने की संभावना है। इस आधार पर पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।
वृत्त निरीक्षक बाबूलाल मुरारिया ने बताया कि खेरोट निवासी बालुराम(42) पुत्र पूनमचन्द मेघवाल उसके खेत पर सोता था। वह 12 नवम्बर को भी अरनोद रोड स्थित अपने खेत पर मोटरसाइकिल लेकर गया था।
सुबह उसका शव खेत पर संदिग्ध हालत में मिला था। जहां मोटरसाइकिल और मोबाइल गायब थे। इस संबंध में मृतक के पुत्र नरेन्द्र ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
पुलिस ने मामले को देखते हुए अनुसंधान किया। अनुसंधान के दौरान साईबर सैल सेे तकनीकी सहायता से साक्ष्य संकलित कर घटना में मदनलाल पुत्र तुलसीराम मीणा निवासरी बनेडिया कला थाना अरनोद एवं महेश पुत्र शिवलाल मीणा निवासी जहाजपुर की संलिप्तता पाई गई।
इस पर एक दिसम्बर को मदनलाल मीणा को गिरफ्तार किया गया। उक्त घटना का मुख्य आरोपी महेश पुत्र शिवलाल मीणा निवासी जहाजपुर थाना प्रतापगढ़ घटना के बाद से फरार चल रहा था। जो मोबाइल सीम एवं जगह बार-बार बदल रहा था।
इसे लेकर पुलिस अधीक्षक शिवराज मीणा व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रतनलाल भार्गव ने एक टीम का गठन किया। जिसमें पुलिस अधिकारी, हैड कांस्टेबल और कांस्टेबल के साथ साईबर सैल प्रभारी हैड कांस्टेबल फैलीराम को शामिल किया गया।
साईबर सैल के तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर महेश की लोकेशन खेरोट में होने से टीम द्वारा घेरा देकर पकड़ा। सख्ती से पूछताछ की गई।उसने साथी मदन के साथ मिलकर बालुराम की हत्या करना कबूल किया। उसे गिरफ्तार किया गया।
पलिस ने बताया कि वह पूर्व में सम्पति संबंधी अपराधों एवं मादक पदार्थों की तस्करी में संलिप्त रहा है। जहाजपुर में बाबुलाल मीणा मर्डर केस में भी संलिप्त होने की सम्भावना होने से पूछताछ जारी है।