साल की शुरुआत सबसे बड़े आइपीओ से, 4600 करोड़ जुटाएगी रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन

|

Updated: 14 Jan 2021, 02:18 PM IST

2021 में भी रहेगी आइपीओ की धूम, करीब 30 आइपीओ उतरेंगे, 30 हजार करोड़ से ज्यादा जुटाएंगे

 

नई दिल्ली। साल 2020 के अंत में बाजार की तेजी से पैसा बनाने वाले निवेशक अब 2021 में आइपीओ मार्केट से कमाई के लिए तैयार हैं। इस साल दो दर्जन से अधिक कंपनियों ने आइपीओ के लिए सेबी के पास आवेदन किया है। साल की शुरुआत सबसे बड़े आइपीओ से हो रही है, इंडियन रेलवे फाइनेंस कॉरपोरेशन (आइआरएफसी) 4600 करोड़ का आइपीओ लेकर आ रही है। पहली बार ऐसा होगा कि किसी पीएसयू नॉन बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनी (एनबीएफसी) का आइपीओ आ रहा है। यह आइपीओ 18 जनवरी से 20 जनवरी तक निवेश के लिए खुला रहेगा। प्राइस बैंड 25-26 रुपए प्रति शेयर तय किया गया है।

575 शेयरों का होगा एक लॉट
आइआरएफसी के आइपीओ में 178.20 करोड़ शेयर होंगे। आइपीओ के लिए 575 शेयरों का एक लॉट होगा। निवेशक न्यूनतम एक लॉट से लेकर अधिकतम 13 लॉट के लिए आइपीओ में पैसा लगा सकते हैं। इस आइपीओ में 50 फीसदी इश्यू क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स के लिए है, 15 फीसदी हिस्सा नॉन इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स के लिए और 35 फीसदी हिस्सा रिटेल निवशकों के लिए है। इसे साल के लिए 30 से अधिक आइपीओ कतार में है। इनका कुल मूल्य 30,000 करोड़ रुपए से अधिक रहने का अनुमान है।

जनवरी में ये 6 कतार में!
जनवरी महीने में आइआरएफसी के अलावा इंडिगो पेंट्स, होम फस्र्ट फाइनेंस कंपनी, ब्रुकफील्ड आरईआइटी और रेलटेल के आईपीओ आ सकते हैं।

एलआइसी पर सबकी नजर
यदि सरकार अपने इरादे पर आगे बढ़ती है तो 2021 में भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआइसी) के आइपीओ की भी बाजार में दस्तक देने की उम्मीद है। यह देश का अब तक का सबसे बड़ा आइपीओ होने का अनुमान है जो पिछले सभी रिकॉर्ड तोड़ सकता है। एलआइसी का बाजार मूल्यांकन हजारों अरब रुपए में होने का अनुमान है।