शेयर बाजार ने बनाया नया रिकॉर्ड, सेंसेक्स और निफ्टी में उठापठक जारी, रिलायंस 3 फीसदी तेज

|

Updated: 23 Nov 2020, 10:44 AM IST

  • सेंसेक्स ने 44,271 अंकों के साथ बनाया नया रिकॉर्ड, निफ्टी 12,900 अंकों से नीचे
  • रिलायंस फ्यूचर डील को मिली सीआईआई से मंजूरी, शेयरों में 3 फीसदी का आया उछाल

नई दिल्ली। आज शेयर बाजार में जबरदस्त उठापठक देखने को मिल रही है। ताज्जुब की बात तो ये है कि बाजार के शुरुआती दौर में सेंसेक्स और निफ्टी में जबरदस्त तेजी देखने को मिली। बाजार में तेजी की बदौलत सेंसेक्स ने नए हाई का रिकॉर्ड कायम किया। जबकि निफ्टी मौजूदा समय में 12,900 अंकों से नीचे आ चुका है। जबकि आज निफ्टी 12960 अंकों के स्तर पर भी देखा गया। रिलायंस और फ्यूचर ग्रु डील को सीआईआई की मंजूरी मिल चुकी है। जिसकी वजह से रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों मेे काफी दिनों बाद 3 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही है।

शेयर बाजार में उठापठक तेज
आज शेयर बाजार में ज्यादा उठापठक देखने को मिल रही है। मौजूदा समय में बांबे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 78.12 अंकों की तेजी के साथ 43960.37 अंकों पर कारोबार कर रहा है। जबकि आज सेंसेक्स कारोबारी सत्र के दौरान 44,271.15 अंकोंं के साथ नए रिकॉर्ड अंकों पर पहुंचा। वहीं इसी सत्र में सेंसेक्स ने 43,817.17 गोता लगाया है। वहीं दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज की प्रमुख सूचकांक निफ्टी 50 29.20 अंकों की बढ़त के साथ 12,888.25 अंकों पर कारोबार कर रही है। जबकि आज निफ्टी 12,962 अंकों पर पहुंचा। निवेशकों को उम्मीद थी कि बाजार में जिस तरह की शुरुआती तेजी दिख रही है, उसकी बदौलत आज निफ्टी 13 हजार अंकों को पार कर जाएगा, लेेकिन ऐसा नहीं हो सका।

यह भी पढ़ेंः- यह महिला बनी दिल्ली एनसीआर में महिलाओं की 'सोनू सूद', कोविड फैमिलीज के घर पहुंचाती हैं खाना

बढ़त और गिरावट वाले शेयर्स
पहलेबात बढ़त वाले शेयरों की करें तो इंडसइंड बैंक में 3.58 फीसदी की बढ़त देखने को मिल रही है। हिंडाल्को इंडस्ट्रीज 2.81 फीसदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज 2.63 फीसदी, डिविस लेबोरेटरीज 2.51 फीसदी और बजाज फाइनसर्व 2.20 फीसदी की बढ़त देखने को मिल रही है। जबकि टाटा मोटर्स का शेयर आज 1.77 फीसदी की गिरवट के साथ कारोबार कर रहा है। जबकि आईसीआईसीआई बैंक 1.55, हाउसिंग डेवलपमेंट फायनांस कॉरपोरेशन 1.52, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 1.50 फीसदी और एक्सिस बैंक के शेयरों में 1.33 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है।